सिवान: देश में हिंदुओं पर हो रहे हमले व धमकियों को ले बजरंग दल ने सौंपा ज्ञापन

0
  • राष्ट्रपति को संबोंधित ज्ञापन डीएम को सौंप हिंसा फैलाने वालों पर की कार्रवाई की मांग
  • 17 जून को देश भर में विशेष निगरानी रखने की मांग

परवेज अख्तर/सिवान: देश में छोटी-छोटी बातों पर बढ़ रही इस्लामिक कट्टरता व हिंसा करने वालों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग को लेकर गुरुवार को बजरंग दल ने एक ज्ञापन सौंपा. समाहरणालय पहुंच राष्ट्रपति को संबोंधित एक मांग पत्र डीएम को सौंपा. इस मौके पर बजरंग दल के बिहार व झारखंड क्षेत्र संयोजक जन्मेजय कुमार ने कहा है कि बीते कुछ दिन से देशभर में इस्लामिक जेहादी कट्टरता बढ़ती जा रही है. योजनापूर्वक हिन्दुओं पर हमले किये जा रहे है. वर्ष प्रतिपदा एवं भगवान श्रीराम के प्रकटोत्सव श्रीराम नवमी पर देशभर में शोभायात्राओं पर पथराव व हमला किया गया. जिससे देशभर में तनाव की स्थिति बनी रही. कुछ स्थानों पर श्री हनुमान जयंती की शोभायात्राओं पर भी पथराव हुआ. अभी हाल में बहन नुपुर शर्मा व नवीन जिन्दल के बयान को लेकर गत दो शुक्रवारों को जुम्मे की नमाज के बाद मस्जिदों से हमले किये गये. हिंदुओं के घरों, दुकानों व वाहनों को आग के हवाले कर दिया गया.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

रोकने के दौरान पुलिस बलों पर भी हमले हुये. उन्होंने कहा कि बंगाल, केरल जैसे राज्यों की सरकारें तो मानों इन इस्लामी जेहादियों के साथ खड़ी नजर आ रही है. देशभर का हिंदू समाज इन घटनाओं के विरुद्ध अपना आक्रोश व्यक्त करता है.उल्लेखनीय हो कि गुरुवार को बजरंग दल सीवान के जिला संयोजक रंजन कुमार सिंह के नेतृत्व में बजरंग दल के प्रतिनिधि मंडल ने राष्ट्रपति के नाम से एक ज्ञापन जिला प्रशासन को सौंपा. बजरंग दल ने अपने ज्ञापन में मांग की है कि गत दो जुम्मों की नमाज के बाद निकली उन्मादी भीड़ और दंगाईयों को पहचान कर उन पर रासुका के तहत कार्यवाही की जाय. 17 जून को भी विशेष निगरानी रखी जाय. देशभर में ऐसे जहरीले भाषण देने वालों को चिन्हित कर उन पर कार्यवाही की जाय. जिनको धमकियां दी जा रही है उनको सुरक्षा उपलब्ध करायी जाय व धमकी देने वालों पर भी कठोर कार्यवाही की जाय. बजरंग दल के प्रतिनिधि मंडल में जिला संयोजक रितेश कुमार सिहं, बबलू सरैया, सुधांशु पांडे, धंनजय कुमार, वीरेंद्र पांडे, गिरीश कुमार सिंह, अमरेंद्र कुमार, रुपेश कुमार राय, प्रभाकर तिवारी आदि मौजूद रहे.