सिवान: दयानंद आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं अस्पताल संगोष्ठी का आयोजन

0

परवेज अख्तर/सिवान: आयुष मंत्रालय एवं भारतीय चिकित्सा पद्धति राष्ट्रीय आयोग के निर्देशन के आलोक में दयानंद आयुर्वेदिक महाविद्यालय एवं अस्पताल के धनवंतरी सभागार में भारत के आजादी के 75 वे वर्ष में अमृत महोत्सव के अंतर्गत स्वस्थ जीवन में पोषण का महत्व रूपी विषय पर एक संगोष्ठी का आयोजन किया गया जिसमें मुख्य अतिथि एवं मुख्य वक्ता डॉक्टर सिद्धार्थ कुमार सिंह प्रति कुलपति कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय थे। विशिष्ट अतिथि सत्येंद्र कुमार सिंह जी जंतु विज्ञान के विभागाध्यक्ष राम जयपाल सिंह कॉलेज छपरा थे। नरेंद्र मोदी मेडिकल कॉलेज एवं अस्पताल सिवान के शासी निकाय के सचिव एवं भाजपा के जिला अध्यक्ष डॉक्टर संजय पांडेय जी साथ ही राष्ट्रपति पदक से सम्मानित पूर्व प्राचार्य धर्म शास्त्र विभाग कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय प्रोफेसर डॉक्टर वाचस्पति शर्मा त्रिपाठी जी एवं आयुर्वेद महाविद्यालय के प्राचार्य एवं कामेश्वर सिंह दरभंगा संस्कृत विश्वविद्यालय के आयुर्वेद संकाय के संकाय अध्यक्ष डॉक्टर प्रजापति त्रिपाठी जी एवं डीएवी स्नातकोत्तर महाविद्यालय के प्राचार्य प्रोफेसर डॉ अजय कुमार पंडीत जी एवं डीएवी स्नातकोत्तर महाविद्यालय के सेवानिवृत्त आचार्य प्रोफेसर डॉक्टर रविंद्र नाथ पाठक जी और डीएवी स्नातकोत्तर महाविद्यालय के सेवानिवृत्त आचार्य एवं पूर्व सचिव शासी निकाय दयानंद वेदिक मेडिकल कॉलेज प्रोफेसर डॉक्टर रामानंद पांडेय के साथ राजा सिंह महाविद्यालय के प्राचार्य श्री उदय शंकर पांडे जी मंचासीन अतिथियों में सम्मिलित थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

इन सभी विद्वानों के द्वारा संगोष्ठी के उपरोक्त विषय पर प्रकाश डाला गया। इस विषय पर विशेष विवेचना मुख्य वक्ता प्रति कुलपति जी के द्वारा की गई। सभा की शुरुआत में अतिथियों द्वारा दीपक जलाकर एवं भगवान धन्वंतरी के चित्र पर माल्यार्पण कर की गई। संस्था की छात्राओं द्वारा धन्वंतरी वंदना एवं स्वागत गान गाया गया। इस अवसर पर संस्था के प्राचार्य प्रोफेसर डॉक्टर प्रजापति त्रिपाठी ने स्वस्थ जीवन में पोषक तत्वों के महत्व को बताते हुए आयुष मंत्रालय के द्वारा प्रदत इस कार्यक्रम की भूरी भूरी प्रशंसा करते हुए कहा कि यह अमृत महोत्सव माननीय प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी के आवाहन पर हो रहा है। इस सेवा से जनसेवा एवं आयुर्वेद का उत्थान दोनों ही निश्चित है। पोषक तत्वों के ज्ञान के बिना पोषण अधूरा रहता है। इस अवसर पर माननीय सचिव महोदय डॉक्टर संजय पांडे के द्वारा पोषक तत्वों के जानकारी के बिना मनुष्य स्वस्थ नहीं रहेगा और स्वस्थ जीवन ही स्वस्थ समाज का निर्माण करता है कहा। इस अवसर पर मंच संचालन प्रोफेसर डॉक्टर योगेंद्र नाथ पांडे एवं प्रोफेसर डॉक्टर सुधांशु शेखर त्रिपाठी ने संयुक्त रुप से मिलकर किया। कार्यक्रम की व्यवस्था डॉ विजय गणेश यादव के जिम्मे थी। इस अवसर पर मंच पर प्रोफेसर डॉ मनोज मिश्रा मौजूद थे। इस अवसर पर डॉ मनोरंजन प्रसाद श्रीवास्तव, डॉक्टर पूजा त्रिपाठी, डॉ राजा प्रसाद, डॉ उपेंद्र पर्वत, डॉक्टर अरूप रतन दास, डॉक्टर दुर्गेश, डॉ पुष्कर राय, प्रकाश पांडेय, सुधीर दि्वेदी,राघवेन्द्र उपाध्याय, अरूण पाण्डेय, पंकज दुबे,दिपक कुमार,हरे राम सीह, बिरेंदर पाठक सहित सभी शिक्षक शिक्षकेतर कर्मचारी एवं छात्र छात्राएं उपस्थित थे।