सिवान : कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए डीएम ने 13 कोषांगों को किया पुनर्गठित

0
  • पदाधिकारियों को दी गई अलग-अलग जिम्मेदारी
  • टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट प्रोटोकॉल को कड़ाई से लागू करने का डीएम ने दिया निर्देश

सिवान : जिले में एक बार फिर से कोरोना संक्रमण के मामले बढ़ने लगे हैं। इसकी रोकथाम के लिए जिला प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग सजग है। जिला पदाधिकारी अमित कुमार पांडेय ने कोरोना संक्रमण के प्रभावशाली नियंत्रण के लिए 13 कोषांगों को पुनर्गठित किया है। जिला पदाधिकारी ने निर्देश दिया है कि कोविड-19 के टेस्ट ट्रैक-ट्रीट प्रोटोकॉल को कड़ाई से लागू किया जाए। गठित कोषांग में अलग-अलग पदाधिकारियों को जिम्मेदारी दी गई है। प्रत्येक कोषांग में एक-एक नोडल पदाधिकारी बनाए गए हैं। जिला पदाधिकारी ने कोविड-19 डाटा कोषांग का नोडल पदाधिकारी डॉ कीर्ति धमीजा, केयर इंडिया को बनाया है। इस कोषांग में अन्य पदाधिकारी भी शामिल हैं । कोविड-19 डाटा कोषांग का दायित्व है कि वरीय पदाधिकारी प्रतिदिन प्रगति प्रतिवेदन की हार्ड कॉपी या सॉफ्ट कॉपी इस कोषांग को अनिवार्य रूप से उपलब्ध कराएंगे। कोषांग में प्रतिनियुक्त पदाधिकारियों को निर्देश दिया जाता है कि प्रतिदिन प्रगति प्रतिवेदन जैसे- सैंपल टेस्ट, आइसोलेशन सेंटर, ट्रीटमेंट सेंटर में व्यक्तियों की सूची होम आइसोलेशन की अद्यतन स्थिति माइक्रो कंटेनमेंट जोन की संख्या आदि से अधोहस्ताक्षरी को निश्चित रूप से अवगत कराएंगे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

डीपीएम होंगे सैंपलिंग प्रबंधन कोषांग के नोडल पदाधिकारी:

सैंपलिंग प्रबंधन कोषांग का नोडल पदाधिकारी जिला स्वास्थ समिति के डीपीएम ठाकुर विश्वमोहन को बनाया गया है। इस कोषांग का दायित्व है कि टेस्ट-ट्रैक-ट्रीट प्रोटोकॉल के कड़ाई से अनुपालन के लिए कोविड-19 की जांच में आरटी-पीसीआर जांच प्रतिशत को 70% से ऊपर रखा जाए और इस कोषांग का मूल्य कार्य लक्ष्य समूह की पहचान कर सैंपल संग्रहित करना तथा कुल जांच में आरटी-पीसीआर जांच का 70% या अधिक करना है। टेस्ट सैंपल लिए जाने के एक दिन पूर्व चयनित प्रखंड के माइक्रो कंटेनमेंट जोन में सैंपल लिए जाने के लिए तैयारी करवाएंगे। सैंपल लेने के लिए क्लोज कांटेक्ट की सूची एवं वनरेबल ग्रुप की सूची संबंधित कोषांग से प्राप्त करना सुनिश्चित करेंगे। कोषांग के वरीय पदाधिकारी को निर्देश दिया गया है कि प्रतिदिन प्रतिवेदन से कोविड डाटा कोषांग को रिपोर्ट अवगत कराएंगे।

माइक्रो कंटेनमेंट जोन कोषांग के नोडल पदाधिकारी होंगे विपिन कुमार राय:

जिला पदाधिकारी अमित कुमार पांडेय ने माइक्रो कंटेनमेंट जोन कोषांग को गठित करते हुए जिला लोक शिकायत निवारण पदाधिकारी विपिन कुमार राय को नोडल पदाधिकारी प्रतिनियुक्त किया है। इसमें चार अन्य पदाधिकारी भी शामिल हैं । इस कोषांग का दायित्व है कि कोविड-19 के टेस्ट ट्रेक ट्रीट प्रोटोकॉल के अंतर्गत भेद्द एवं निजी क्षेत्रों में अधिक संख्या में संक्रमण पा गये क्षेत्रों में माइक्रो कंटेनमेंट जोन को शीघ्रता एवं प्रभावशाली रूप से चिह्नित करना, संक्रमण को रोकने के लिए महत्वपूर्ण है। इस कोषांग का मुख्य दायित्व प्रभावशाली रूप से सरकार के दिशा निर्देशों का पालन कर माइक्रो कंटेनमेंट जोन निर्धारित करना है।

कांटेक्ट ट्रेसिंग कोषांग:

जिला पदाधिकारी अमित कुमार पांडेय ने अपर समाहर्ता रमन कुमार सिन्हा को कांटेक्ट ट्रेसिंग कोषांग का नोडल पदाधिकारी प्रतिनियुक्त किया है। कोषांग का दायित्व है कि केयर इंडिया की कृति धमीजा सभी पॉजिटिव पाए जाने वाले व्यक्तियों की सूची कांटेक्ट ट्रेसिंग कोषांग के नोडल पदाधिकारी, संबंधित अंचलाधिकारी को उपलब्ध कराएंगी। अंचलाधिकारी विहित प्रपत्र में कांटेक्ट ट्रेसिंग कर उसे नोडल पदाधिकारी को उपलब्ध कराएंगे। कांटेक्ट ट्रेसिंग में 14 दिनों के भीतर पॉजिटिव व्यक्ति के संपर्क में आए हुए 80% व्यक्तियों की सूची 72 घंटे के अंदर तैयार की जाएगी।

डीएम ने इन कोषांगों का किया गठन:

  • कोविड-19 डाटा कोषांग
  • सैंपलिंग प्रबंधन कोषांग
  • माइक्रो कंटेनमेंट जोन कोषांग
  • कांटेक्ट ट्रेसिंग कोषांग
  • सर्विलांस कोषांग
  • पेशेंट मूवमेंट कोषांग
  • होम आइसोलेशन कोषांग
  • सैनिटाइजेशन कोषांग
  • जिला नियंत्रण कक्ष कोषांग
  • मेडिकल पारा मेडिकल स्टाफ मॉनिटरिंग कोषांग
  • इनफार्समेंट कोषांग
  • आईईसी कैंपेन कोषांग