सिवान: बड़हरिया से जदयू के पूर्व विधायक बिहार में कराएंगे पियक्‍कड़ों का सम्‍मेलन, कहा-जो ब्रांड चाहिए, वह मिलेगा

0
  • वीडियो में कमर भी लचकाते नजर आते हैं पूर्व विधायक 
  • ठंडी के दवा खइले बानी

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
अपनी भाव भंगिमाओं और बयानबाजी के कारण सिवान जिले के जदयू के पूर्व विधायक श्‍याम बहादुर सिंह ने एक बार फिर विवादास्‍पद बयान दे दिया है। पूर्व विधायक ने कहा है वे पियक्‍कड़ सम्‍मेलन का आयोजन कराने जा रहे हैं। इससे पता चलेगा पीने वाले कितने हैं और ना पीने वाले कितने। ठंड के बाद वे इसका आयोजन करेंगे।उन्‍होंने कहा कि ठंड उतरने के बाद गांधी मैदान में पियक्‍कड़ सम्‍मेलन करेंगे।लोग जो कहेंगे वह पिलाया जाएगा। जिला परिषद परिसर में अध्‍यक्ष और उपाध्‍यक्ष के कार्यालय का उद्घाटन करने पहुंचे थे।इसी क्रम में उन्‍होंने ये बातें कहीं। इसका वीडियो भी वायरल हो रहा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

वीडियो में कमर भी लचकाते नजर आते हैं पूर्व विधायक 

वीडियो में वे भोजपुरी में कहते हैं, पियक्‍कड़ सम्‍मेलन कराबे जा रहल बानी। गांंधी मैदान में, ई तनी ठंडिया कम हो जाई तब। पता चली कि पीयेला केतना लोग बा, ना पीयेवाला केतना लोग बा। लोग के बोलावल जाई, जौन कही लोग तौन पियावल जाई। सिवान के ही गांधी मैदान में इसका आयोजन करेंगे। वीडियो में लोग पूछते हैं कि कौन ब्रांड, वे कहते हैं कि ओही दिन पता चली। वीडियो में पूर्व विधायक कमर भी लचकाते हैं। भोजपुरी गाना की पंक्तियां भी दोहराते नजर आते हैं।

ठंडी के दवा खइले बानी

वहां कुछ लोग मौजूद हैं पूछते हैं कि आप पर किसका असर है।वे कहते हैं कि ठंडी की दवा खइले बानी, बीकोसुल।लोग पूछते हैं कहां के बीकोसुल,वे कहते हैं कि यूपी वाला है फिर कहते हैं कि हरियाणा वाला।फिर कहते हैं पंजाब वाला।इस दौरान वे मीडिया पर भी कमेंट करते हैं।कहते हैं हमनिये के फेर में रहता ई लोग।पूर्व विधायक कहते हैं कि शराबबंदी कानून को थोड़ा ढीला करना चाहिए।वे कहते हैं कि बंद भइल बा कहियो का होई।

आज दारू बंद,काल मेहरारू बंद, ई कोनो बात हुआ।वीडियो में कुछ लोग कहते हैं कि आप क्‍या चाहते हैं कि विदेशी चले और देसी बंद। पूर्व विधायक कहते हैं कि फिर गरीब लोगों का क्‍या होगा। ये भी कहते हैं कि वे मांग करते हैं लेकिन सरकार मानेगी या नहीं, यह तो वही जाने। भाजपा के पूर्व एमएलसी श्री टुन्‍ना जी पांडेय पर वे मजाकिया लहजे में कहते हैं ओतना ढंग से गाड़ी केहू न दे पाई।