सिवान: शिक्षकों को राज्यकर्मी का दर्जा दे सरकार : शिक्षक संघ

0

परवेज अख्तर/सिवान: शिक्षक एवं शिक्षा हितों के आठ सूत्री मांगों के समर्थन में बिहार राज्य प्राथमिक शिक्षक संघ के निर्देशानुसार सभी कोटि के शिक्षकों ने जिला समाहरणालय गेट पर एक दिवसीय धरना दिया। जिलाध्यक्ष ठाकुर प्रसाद यादव के नेतृत्व में धरना में शामिल शिक्षकों ने कहा कि अगर सरकार उनकी मांगों को नहीं मानती है तो आंदोलन को और ही तेज किया जाएगा। प्रमुख मांगों में बिहार राज्य विद्यालय अध्यापक नियमावली 2023 में संशोधन करते हुए बिना किसी परीक्षा के स्थानीय निकाय द्वारा नियुक्त सभी शिक्षकों को राज्यकर्मी का दर्जा देने, शिक्षकों को पुरानी पेंशन योजना का लाभ देने, एमएसीपी/वित्तीय उन्नयन का लाभ देने, मृत्युपरांत आश्रितों को अनुकंपा का लाभ देते हुए शिक्षक पद पर नियुक्ति करने, केंद्र के अनुरुप डीए 25 प्रतिशत से अधिक होने पर शहरी क्षेत्र में एचआरए में वृद्धि करने, शहरी क्षेत्र में कार्यरत शिक्षकों को परिवहन भता का लाभ देने सहित अऩ्य मांगे शामिल थे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

वहीं दूसरी ओर आंबेडकर स्मृति पार्क में शिक्षकों का धरना छठवें दिन शनिवार को भी जारी रहा। धरना की अध्यक्षता कर रहे जिलाध्यक्ष वागिंद्र नाथ पाठक ने कहा कि अपने हक-अधिकार के लिए शिक्षक सरकार से आर-पार की निर्णायक लड़ाई लड़ेंगे। अगर सरकार नियमावली में संशोधन कर राज्यकर्मी के रूप में समायोजन नहीं करती है तो सड़क से सदन तक लड़ाई जारी रखेंगे। धरना में प्रधान सचिव जयप्रकाश चौधरी, माधव सिंह, ओमप्रकाश नारायण, ध्रवनाथ सिंह, राजीव रंजन तिवारी, बुलेट सिंह, कोषाध्यक्ष मनन प्रसाद सिंह, परीक्षा सचिव मनोरंजन कुमार सिंह, परीक्षा अध्यक्ष वीरेंद्र कुमार राम, उपाध्यक्ष अजय कुमार पांडेय, ममता कुमारी आदि शिक्षक शामिल थे।