सिवान: स्थानांतरण की आस में बैठे शिक्षकों के साथ महागठबंधन की सरकार ने किया धोखा

0

परवेज अख्तर/सिवान: बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के आह्वान पर जिले के नियोजित शिक्षकों ने शिक्षक नियोजन नियमावली 2023 के विरोध में गांधी मैदान में मुख्यमंत्री, उपमुख्यमंत्री एवं शिक्षामंत्री का पुतला दहन किया.बिहार राज्य प्रारंभिक शिक्षक संघ के जिलाध्यक्ष सुधीर कुमार शर्मा ने कहा कि वर्षों से स्थानांतरण की आस में बैठे शिक्षकों के साथ महागठबंधन की सरकार ने धोखा किया है. प्रधान सचिव मो शाहिद आलम एवं राजीव रंजन तिवारी ने कहा कि उपमुख्यमंत्री तेजस्वी यादव ने वादा किया था कि महागठबंधन की सरकार बनने पर नियोजित शिक्षकों को नियमित शिक्षकों के समान सारी सुविधाएं दी जाएगी. लेकिन जब मौका मिला तो इन लोगों ने शिक्षकों के पीठ में छुरा भोंकने का काम किया है.ललन बैठा एवं गौतम मांझी ने कहा कि पूर्व से कार्यरत नियोजित शिक्षकों को बीपीएससी परीक्षा के माध्यम से राज्यकर्मी का दर्जा देने का निर्णय बहुत हीं ग़लत है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

कई वर्षों से विद्यार्थियों का भविष्य संवारने वाले गुरु जी को फिर से परीक्षा देने का फरमान कहीं से भी सही नहीं है.बुलेट सिंह एवं रजनीश मिश्रा ने कहा कि सरकार को इस नियमावली को वापस लेकर सभी नियोजित शिक्षकों को राज्यकर्मी का दर्जा एवं पुरानी पेंशन आदि का लाभ अविलंब देना चाहिए. उपस्थित शिक्षकों ने कहा कि नियोजित शिक्षकों के अवकाश, प्रोन्नति, स्थानांतरण एवं सेवाशर्त पर 2023 के नियमावली में कोई चर्चा नहीं रहने से शिक्षक हताश है.महेश प्रभात एवं विनोद कुमार ने कहा कि आने वाले दिनों में शिक्षक संघ बड़ा आंदोलन करेगा. पुतला दहन कार्यक्रम में मुख्य रूप से अमरलाल यादव,जयराम यादव,सतीश श्रीवास्तव,अजय कुमार, आतिश कुमार,राजेश राज,आमोद कुमार,प्रमोद सिंह,मोहन कुमार,पिंटू कुमार,हरेंद्र पंडित,सुजीत कुमार, विजय कुमार, जीतन महतो, संजय कुमार सिंह आदि उपस्थित थे .