सिवान में ड्यूटी से लौट रहे होमगार्ड की गोली मारकर हत्या

1

हुसेनगंज थाना के मड़कन निवासी होमगार्ड वसींद्र दत्त पांडेय (50) की जेल में थी तैनाती मंगलवार की शाम घर से ड्यूटी आते समय रसीदचक में अपराधियों ने मारी गोली मृतक के पुत्र ने अज्ञात के खिलाफ दर्ज कराई एफआइआर।
प्रवेज़ अख्तर/सिवान| हुसेनगंज थाना के रसीदचक में मंगलवार की शाम करीब पांच बजे गोली मारकर होमगार्ड के जवान मड़कन निवासी वसींद्र दत्त पांडेय की हत्या कर दी गई। वे जेल में तैनात थे। घटना के समय ड्यूटी के लिए सिवान आ रहे थे। उनको आनन-फानन में सदर अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया। मृतक के पुत्र अविनाश पांडेय ने रोते हुए सभी के सामने बताया कि चुनावी रंजिश के कारण उसके पिता की हत्या एक साजिश के तहत की गई है। छोटा बेटा आशुतोष पांडेय राजा सिंह कॉलेज में स्नातक का छात्र है। आशुतोष ने बताया कि उसे किसी ने मोबाइल पर फोन कर सूचना दी कि तुम्हारे पिता को गोली मार दी गई है। शव रसीद चक में पड़ा है। तब वहां पर सभी लोग पहुंचे और उनको लेकर सदर अस्पताल आए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

यह भी पढ़े:- गोपालगंज में बाइक सवार चोर ने महिला के गले से छिना सोने की चैन

घटना की सूचना पर एएसपी कार्तिकेय शर्मा, होमगार्ड के समादेष्टा रीतेश कुमार सहित नगर और अन्य कई थानों की पुलिस सदर अस्पताल में पहुंच गई। अस्पताल में रोते हुए मृतक के पुत्र ने आरोप लगाया कि उसके पिता की हत्या राजनीतिक द्वेष के कारण साजिश रच कर की गई है। गत विधानसभा चुनाव के बाद कुछ लोगों ने उन्हें सबक सिखाने की धमकी दी थी। मंगलवार को इसे अंजाम दे ही दिया। एएसपी कार्तिकेय शर्मा ने बताया कि पुलिस मामले की छानबीन में लगी है। होमगार्ड के समादेष्टा रीतेश कुमार ने बताया कि अंत्येष्टि के पूर्व जवान को गार्ड अॉफ अॉनर दिया जाएगा।

murder in siwan

मृतकों परिजन एक आश्रित को नौकरी देने की मांग कर रहे थे। अधिकारियों ने उन्हें समझाकर सांत्वना दी। कहा कि हरसंभव मदद की जाएगी। बुधवार को 10 बजे जिला कार्यालय में गॉर्ड अॉफ अॉनर दिया जाएगा। अंत्येष्टि के लिए परिजन को सात हजार रुपये नकद होमगार्ड विभाग की ओर से दिए जाएंगे। जिलाधिकारी की ओर से चार लाख रुपये का मुआवजा दिया जाएगा। एएसपी ने भी आश्वस्त किया कि किसी आश्रित को होमगार्ड का जवान बनाया जाएगा। बोले एएसपी- अभी परिजन की ओर से अज्ञात के खिलाफ बयान दिया गया है। मृतक का बेटा जरूर रोते हुए चुनावी रंजिश की बात कर रहा था। वैसे हर पहलू की जांच की जा रही है। इसमें शामिल किसी अपराधी को बख्शा नहीं जाएगा।

1 टिप्पणी

Comments are closed.