सिवान: अपहरण मामले में असांव पुलिस ने नहीं की प्राथमिकी दर्ज, लगाई न्याय की गुहार

0
police

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के असांव थाना के बभनौली गांव निवासी अनीश कुमार दुबे ने डीआईजी व एसपी को लिखित आवेदन दिया है.  आवेदन में उन्होंने कहा है कि मैं और मेरे बड़े भाई रजनीश कुमार दुबे अपने अन्य दो लोगों के साथ बाइक पर सवार होकर पचबनिया गांव निवासी शिवजी दुबे के यहां उनके पुत्र के जनेउ कार्यक्रम में सोमवार की शाम शामिल होने के लिए जा रहे थे. इसी बीच पचबेनिया गांव निवासी पुष्पेंद्र पांडे उर्फ पुआ पांडे, विवेक पांडे उर्फ बिहारी पांडे, बभनौली गांव निवासी अखिलेश दुबे, पवन दुबे, सर्वेश दुबे पहले से घात लगाए बैठे हुए थे. उक्त सभी लोगों ने मुझे और मेरे भाई को हथियार के बल पर अपहरण कर लिए और पिस्टल से फायरिंग करते हुए एक कमरे में बंद कर मारने-पीटने लगे.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

साथ ही नगद पांच हजार रुपया एवं एक सोने का चैन छीन लिए और बोले कि हल्ला हंगामा करोगे तो जान से मार देंगे. मैं किसी तरह वहां से अपनी जान बचाकर भागकर अपने परिजनों से बताया. इसके बाद थाना पर आकर अपने भाई की अपहरण का लिखित आवेदन असांव थाना में दिया, लेकिन दो दिन बीतने के बाद भी असांव थाने की पुलिस ने प्राथमिकी दर्ज नहीं की. एक सोची समझी साजिश के तहत मेरे भाई को एक देसी कट्टा एवं गोली के साथ सोमवार की शाम असांव पुलिस को बुलाकर पकड़वा दिया गया है. इस संबंध में थानाध्यक्ष इंद्रदेव महतो ने बताया कि इस मामले में मुझे कोई आवेदन प्राप्त नहीं है.