सीवान मंडल कारा अधीक्षक के अंगरक्षक ने बंदी से बोला की पैसे दो नहीं तो सेल में डाल दूंगा, परिजनों ने थाने में दिया आवेदन, पुलिस कर रही है मामले की जांच

0

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
सीवान मंडल कारा अधीक्षक के अंगरक्षक द्वारा एक कैदी को जेल में सुरक्षित रखने के नाम पर कैदी के परिजनों से प्रत्येक माह मोटी रकम लेने का मामला प्रकाश में आया है.हालांकि इसके पहले भी मंडल कारा में कैदियों के परिजनों से रुपये लेने व जेल में कई कमियों का वीडियो वायरल हुआ था.इधर रकम के मामले में कैदी के भाई ने मुफस्सिल थाने में आवेदन देकर न्याय की गुहार लगाने कि बात कही है.वही यह आरोप लगाया है कि रुपये नहीं देने पर मंडलकारा के पदाधिकारियों द्वारा बंदी से मारपीट, एक से दूसरे सेल में भेजते रहना,साथ ही झूठे मुकदमे में फंसाने की बात कहते हैं.इस मामले में नौतन थाना क्षेत्र के खलवां निवासी आदित्य कुमार राय ने मंडलकारा के पदाधिकारियों के खिलाफ आरोप लगाते एक वीडियो वायरल हुआ है.

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

वीडियो में एक आवेदन भी दिखाया जा रहा है,जो मुफस्सिल थानाध्यक्ष को लिखा गया है.इस आवेदन में लिखा गया है कि प्रार्थी का भाई 2021 में 420 मामले में जेल गया था उसके बाद जेल के काराधीक्षक संजीव कुमार के अंगरक्षक आशुतोष कुमार ने फोन किया और बताया कि तुम्हारे भाई को सुरक्षित और अच्छे तरीके से जेल में रखा जाएगा.इसके लिए तीस हजार रूपये प्रत्येक महीना देना होगा.वही मिली जानकारी के अनुसार कैदी का भाई आदित्य कुमार बिना सोचे समझे प्रत्येक माह रुपए देने लगा.

वह जेल के बाहर प्रत्येक माह आशुतोष कुमार को बुलाकर रुपए देने का काम करता था.जब आशुतोष कुमार रुपए लेने नहीं पहुंचता तो वह रुपए अकाउंट में पे फ़ोन के द्वारा देने लगा.वही कैदी के भाई का यह भी कहना है कि लगभग 4.5 लाख नगद दिया गया है.जिसमें से उसने अकाउंट में दिया गया है और कुछ बाकी रह गए हैं.वही उसने यह भी बताया कि बाकी रुपए नहीं देने पर लगातार फोन कर परेशान किया जा रहा और कई तरह की धमकी दी जा रही है.वही कैदी के भाई ने यह भी कहा कि इस पूरे मामले को लेकर मुफस्सिल थाना में हमने आवेदन दिया है लेकिन अभी तक मामला दर्ज नहीं किया गया और ना ही कोई कार्रवाई की जा रही है.इस संदर्भ में जेल अधीक्षक संजीव कुमार ने बताया कि आज ही मामले कि जानकारी मिली है.मामले की जांच कर कार्यवाई कि जायेगी.