सिवान: होली को लेकर सजे बाजार, रंग-गुलाल की खरीदारी जोरों पर

0
  • पिछले साल होली पर मस्ती नहीं कर पाए लोगों ने इस बार की दिल खोलकर मस्ती, खरीदारी भी
  • दो दिन होली का त्योहार मनाने की चर्चा से लोगों में उत्साह रहा दोगुना

परवेज अख्तर/सिवान: कोरोना महामारी के चलते पिछले वर्ष होली पर मस्ती नहीं कर पाए लोगों ने इस बार दिल खोलकर होली की खरीदारी भी की और साथ ही मस्ती भी। कारण, इस बार कोरोना को लेकर हटाई गई सारी पाबंदियां। इस कारण से लोगों में होली को लेकर गजब का उल्लास व उमंग है। जिले के ग्रामीण इलाके में शुक्रवार जबकि शहरी क्षेत्र में शनिवार को होली मनाने की चर्चा है। ऐसे में दो दिन होली का त्योहार होने से लोगों का उत्साह दोगुना हो गया है। रंगों का त्योहार होली परिवार के साथ मनाने के लिए लोग घर पहुंचने लगे हैं। गांव हो या शहर हर जगह होली की तैयारी शुरू हो गई है। रंग, पिचकारी, मिठाई व कपड़े की दुकानों पर खरीदारी को भीड़ लगी रह रही है। महिलाएं भी बढ़-चढ़कर खरीदारी कर रही हैं। सुबह से लेकर देर शाम तक गुरुवार को बाजार गुलजार रहा। आलम यह रहा कि शहर में दिनभर जाम की स्थिति बनी रही। इधर, बाजारों में होली का रंग खूब चढ़ने से रौनक भी खूब बनी हुई है। रंग की दुकानों में सजी अलग-अलग डिजाइन की पिचकारियां बच्चों की पसंद बनी हुई है। शहर के पटाका बजार में पिचकारियों की दुकान पर खरीदारी के लिए बच्चे अपने परिजनों के साथ पहुंच रहे हैं। पम्प वाली पिचकारी, बंदूक वाली पिचकारी के साथ ही कई अन्य डिजाइन की पिचकारी दुकानों पर गुलाल-अबीर की खुशबू लोगों को अपनी ओर खींच रही है। बाजार में अलग-अलग डिजाइन की मास्क, बाल व मुखौटा भी आकर्षण का केन्द्र बनी हुई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

जिला परिषद में होली मिलन का किया गया आयोजन

होली के रंगीले गीतों के साथ होली मिलन का आयोजन किया जा रहा है। इसी क्रम में जिला परिषद परिसर में होली मिलन समारोह का आयोजन गुरुवार को किया गया। होली के पारंपरिक गीतों पर जमकर लोगों ने मस्ती की। जिला परिषद अध्यक्ष संगीता देवी ने होली मिलन में जिला परिषद सदस्य व प्रतिनिधियों को अबीर गुलाल लगा होली की बधाई दी। कहा कि होली आपसी भाईचारा व प्रेम का पर्व है। मौके पर जेडीयू जिलाध्यक्ष उमेश ठाकुर, जिला प्रवक्ता सुनील कुमार, जिला पार्षद सुशील कुमार डब्ल्यू, रामदुलार वर्मा, बेबी देवी, धर्मेन्द्र कुमार यादव, छुन्नी बाबू, नगीना यादव, मो. हनीफ, हरूनी महतो, विनोद कुमार सिंह व सहायक अभियंता सुरेश चौधरी थे।