दुस्साहस : सिवान के भगवानपुर में कपड़ा व्यवसायी को अपराधियों ने मारी गोली, मौके पर मौत

0
  • दुल्हन साड़ी सेंटर के नाम से मशहूर था जनता बाजार में मृतक साहेब का दुकान
  • शातिर अपराधियों ने पहले रास्ते में घेर कर बुरी तरह से पीटा, बाद में उसे गोली मार उतार दिया मौत के घाट
  • साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से उसके शव को पानी नुमा गड्ढा में फेंका
  • परिजनों का रोते-रोते बुरा हाल

परवेज़ अख्तर/सिवान: जिले के भगवानपुर थाना क्षेत्र के मुंदीपुर गांव निवासी सह कपड़ा व्यवसाई मोहम्मद साहेब हुसैन ( 22 वर्ष) को अपराधियों ने गोली मारकर हत्या कर डाली। मृतक इसी गांव का मोहम्मद अलाउद्दीन का पुत्र बताया जा रहा है। घटना उस समय घटी की जब वह सारण के जनता बाजार से अपनी चर्चित कपड़ा का दुकान बंद कर बाइक सवार होकर घर लौट रहा था कि तभी पूर्व से घात लगाए शातिर अपराधियों ने उसे रास्ते मे ही घेर लिया और उसे बुरी तरह से पिटाई कर उसके हाथ पैर को तोड़ डाले।बाद में अपराधियों ने उसके शरीर के ऊपरी हिस्से में गोली मार मौत के घाट उतार दिया।घटना को अंजाम देने के बाद शातिर अपराधियों ने साक्ष्य मिटाने के उद्देश्य से उसके शव को बगल के गड्ढा नुमा पानी में फेंक दिया।घटना शनिवार की देर संध्या इसी थाना क्षेत्र के मैरी गांव के समीप घटीत हुई। कुछ ही देर के बाद उस रास्ते से गुजर रहे राहगीरों ने अचेत पड़े एक युवक को देख भौंचक रह गए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

धीरे-धीरे  इस बात की भनक जब ग्रामीणों को लगी तो दर्जनों की संख्या में ग्रामीण घटनास्थल पर दौड़ पड़े।बाद में इस घटना की सूचना ग्रामीणों ने स्थानीय थाना पुलिस को दी। जहां सूचना पाकर पहुंची पुलिस ने पंचनामा के आधार पर मृतक का शव बरामद कर पोस्टमार्टम के लिए शनिवार की रात्रि सिवान सदर अस्पताल भेज दिया।जहां कागजी कोरम पूरा नहीं होने के कारण शनिवार की रात्रि में उसके शव का पोस्टमार्टम अस्पताल प्रशासन द्वारा नहीं की गई। रविवार की अलसुबह अस्पताल प्रशासन के द्वारा एक मेडिकल टीम का गठन कर शव का पोस्टमार्टम कराया।पोस्टमार्टम की प्रक्रिया होने के बाद पुलिस ने उसके शव को उसके परिजनों को सौंप दिया।

दूसरी ओर यह भी चर्चा है कि अपराधियों ने घटना को अंजाम देते समय मृतक से मोटी रकम की लूट की है।लेकिन इसका खुलासा अनुसंधान के क्रम में होना तय माना जा रहा है कि आखिर घटना को अंजाम देते समय अपराधियों ने उसके पास से कितने रकम की लूट की है।लूट की घटना पर कुछ भी बताने से पुलिस साफ-साफ इंकार कर रही है।बहरहाल चाहे जो इस घटना को लेकर महाराजगंज एसडीपीओ पोलस्त कुमार के निर्देश के आलोक में एक पुलिस टीम का गठन कर गहराई पूर्वक मामले की अनुसंधान प्रारंभ करते हुए अपराधियों के संदिग्ध ठिकानों पर छापेमारी शुरू कर दी गई है।लेकिन खबर प्रेषण तक पुलिस को कुछ भी सफलता हाथ नहीं लगी है।