सिवान: जिले में पूरी तरह धरातल पर नहीं उतर सकी है नलजल योजना

0
nal jal
  • आदर्श आचार संहिता का ऐलान हो चुका है बावजूद नलजल योजना का काम को गति मिलती रहेगी
  • आचार संहिता लागू होने के बाद भी पूरा किया जाएगा बचा कार्य
  • असमंजस की स्थिति के कारण काम में गुणवत्ता नहीं आ सकी है
  • 01 सौ फीसदी लक्ष्य पूरा होने में करीब 50 वार्ड ही बने हैं बाधक
  • 02 सौ 90 वार्ड में नलजल से सभी को पानी मुहैया कराने का जिम्मा

परवेज अख्तर/सिवान: जिले में नलजल योजना की हकीकत किसी से छिपी नहीं है। कहने के लिए अधिकतर वार्ड में इसे लेकर आवंटित रुपयों को पंचायत प्रतिनिधियों द्वारा खर्च कर दिया गया है। लेकिन, यह योजना अबतक कल्पना के अनुरूप धरातल पर नहीं उतर सकी है। लिहाजा अब भी कई वार्ड में काम पूरा होने के बाद भी नलों से पानी नहीं टपक रहा है। जानकारों की मानें तो नलजल योजना के कार्य को लेकर प्रारंभिक दिनों से ही पदाधिकारी व प्रतिनिधि दोनों में सामंजस्य नहीं रहा। असमंजस की स्थिति के कारण काम में गुणवत्ता नहीं आ सकी और इस योजना का भरपूर लाभ लोगों को नहीं मिल रहा है। गौरतलब है कि यह योजना मुख्यमंत्री के सात निश्चय योजनाओं में से एक थी। इस महत्वकांक्षी योजना को पंचायतों के माध्यम से फलीभूत होना था। जिले में त्रिस्तरीय पंचायत चुनाव को लेकर आदर्श आचार संहिता का ऐलान हो चुका है। बावजूद नलजल योजना का काम को गति मिलती रहेगी। इसे लेकर पत्र जारी कर कहा गया है कि प्रबंध समितियां मुख्यमंत्री ग्रामीण पेयजल निश्चय योजना के अवशेष कार्य को पूरा करने व संधारण के लिए राशि का नियमानुसार उपयोग कर सकेंगी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

3650 वार्डों में नलजल का कार्य पूरा

पंचायती राज विभाग कार्यालय की ओर से मिली जानकारी के अनुसार पंचायतों के माध्यम से इन दिनों कुल करीब 3700 वार्ड में ही नलजल योजना का काम पूरा किया जाना है। लक्ष्य के खिलाफ कार्य करते हुए कुल 3650 वार्ड में काम पूरा कर लिया गया है जबकि महज पचास वार्ड में ही किसी कारणवश काम पेंडिंग हैं, जिसे जल्द ही पूरा कर लिया जाएगा। गौरतलब है कि जिले में कुल 4086 वार्ड हैं। इनमें से कुल 208 वार्ड निकल गए हैं। जबकि 290 वार्ड में पीएचडी विभाग को नलजल के माध्यम से लोगों को पानी मुहैया कराने का जिम्मा सौंपा गया है।

सौ वार्डों में टेक्नीकल फाल्ट से पानी की सप्लाई बंद

बताया गया कि जिले के करीब सौ वार्ड में नलजल योजना का काम पूरा कर कर लिए जाने के बाद भी लोगों तक पानी नहीं पहुंचने की खबर है। इसका कारण टेक्नीकल गड़बड़ी है। कई वार्डों में नलजल की टंकी तक बिजली की सप्लाई नहीं पहुंची है तो कई जगह मोटर जलने की जानकारी दी गयी है। हालांकि इस समस्या का समाधान भी जल्द होने की बात बतायी जा रही है।