सिवान: सगीर हत्या कांड मामले में पुलिस ने लड्डन बिसाती को भेजा जेल

0
  • पिता ने पुलिस को बताया कि रुपये हड़पने को लेकर पुत्र सगीर की हत्या की गयी है
  • अन्य आरोपितों की गिरफ्तारी के लिए संभावित ठिकानों पर की जा रही है छापेमारी

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ: जिले के सराय ओपी क्षेत्र के चिकटोली मोड़ के समीप हुए सगीर हत्याकांड मामले में गिरफ्तार आरोपित फिरोज आलम उर्फ लड्डन बिसाती को पुलिस ने गुरुवार को जेल भेज दिया। पुलिस ने बताया कि मृतक के पिता मोहम्मद सलीम ने पुलिस को बताया है कि रुपये हड़पने को लेकर उसके पुत्र की हत्या की गयी है।इस मामले में लड्डन के अलावा हरदिया निवासी समीउल्लाह मियां, अतीउल्लाह मिस्कार, इरशाद, मेराज, रेयाज और शौकत मियां समेत कुल सात के खिलाफ एफआईआर दर्ज करायी गयी है। सलीम ने पुलिस को बताया है कि लड्डन मियां उसके पुत्र सगीर को बुधवार की सुबह करीब 06:50 बजे बुलाकर अपने साथ ले गया था और कुछ ही देर बाद गोली मार उसके बेटे की हत्या कर दी गयी।सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार पुलिस लड्डन बिसाती से पूछताछ के बाद इस कांड से जुड़ा अन्य कई जानकारियां हासिल की है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
metra hospital

हत्या से पहले सगीर से उलझा था समीउल्लाह

सलीम ने पुलिस को बताया है कि लड्डन उसके बेटे को बुलाकर जहां ले गया वहां समीउल्लाह पहले से ही मौजूद था।फिर सगीर के साथ किसी बात को लेकर समीउल्लाह उलझ पड़ा। इसके बाद मौके पर अतीउल्लाह, इरशाद, अतिउल्लाह का भाई रेयाज, भतीजा मेराज और शौकत भी पहुंचे। इसके बाद अतीउल्लाह और उसके परिवार के अन्य सदस्यों ने अपने कमर से हथियार निकालकर उसके बेटे सगीर को लक्ष्य कर गोलियां दाग दीं। जिससे सगीर की मौत हो गयी। वहीं सराय ओपी थानाध्यक्ष तनवीर आलम ने बताया कि सगीर हत्याकांड में पुलिस अपना काम कर रही है। जल्द ही इस मामले से जुड़े अन्य आरोपितों की भी गिरफ्तारी कर ली जाएगी।