सिवान: सदर अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के बाहर बारिश में घंटों तड़पती रही महिला

0
siwan sadar aspatal me mahila

सिवान :- देश में वैश्विक महामारी कोरोना के मामले प्रतिदिन बढ़ रहे हैं। देश में कोरोना संक्रिमतों की संख्या बढ़कर 11 लाख पार गयी है। कुछ ऐसे भी मामले देखने को मिल रहे हैं जहां इलाज के चलते मरीज को घंटो बीतने पड़ रहा है उसके बाद भी इलाज नहीं हो पा रहा है। इतने संघर्ष करने के बाद भी अगर इलाज नहीं हो पा रहा हो तो इसे आप क्या कहेंगे। बिहार राज्य में इस तरह के हालात आप को देखने के लिए मिल सकता है क्यूंकि यहां की स्तिथि खराब है। कोरोना संदिग्ध मरीज अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के बाहर घंटों तड़पती रही , इस महिला के इलाज के लिए लाख मिन्नतें करनी पड़ रही है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

ऐसा ही एक मामला सूबे के सिवान जिले के सदर अस्पताल से सामने आया है जहां एक महिला अस्पताल के इमरजेंसी वार्ड के बाहर घंटों खुले आसमान के निचे बारिश में लेटी भीगते तड़पती रही और अस्पताल प्रशासन मूकदर्शक बना रहा। एक तो सुबह से बारिश हो रही थी ऐसे में खुले आसमान के निचे महिला भीगते रही और इसका इलाज भी होने से रहा।

mahila in siwan

अस्पताल के सिविल सर्जन यदुवंश शर्मा ने कहा की वह कोरोना मरीज नहीं है। आगे इन्होने कहा की इस बात की सुचना हमे जिलाधिकारी के द्वारा दी गयी है और हमने तवरित मामले पर संज्ञान लिया।

सोशल मीडिया में ये खबर वायरल होने के बाद यूजर्स की ओर से दावा किया गया कि महिला को अस्पताल प्रशासन ने भर्ती कराया व उसका इलाज शुरू किया। कहा जा रहा है कि उसका कोरोना जांच भी कराया जाएगा।