सिवान: कोविड नियमों का पालन करते हुए खुले जिले के स्कूल

0
  • पहले दिन क्लास में छात्रों को शरीर में होने वाले संक्रमण और इससे रोकथाम के संबंध में जानकारी दी गई
  • मास्क पहनने व सैनेटाइज्ड के बाद छात्रों को जाने की अनुमति
  • स्कैनिंग करने के बाद विद्यालय परिसर में जाने की इजाजत दी
  • 50 प्रतिशत छात्रों की उपस्थिति का दिया गया है निर्देश
  • 9 वीं से 10 वीं तक की सोमवार से पढ़ाई शुरू हो गई

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के सभी निजी स्कूल सोमवार से कोविड नियमों का पालन करते हुए खुल गए। डीएवी, केन्द्रीय विद्यालय, महावीरी, डान बास्को, इकरा, दिल्ली पब्लिक स्कूल, संघमित्रा, इमानुअल, जेआर कांवेंट व विज्ञानानंद केंद्रीय विद्यालय समेत सभी स्कूलों में 9 वीं से 10 वीं तक की पढ़ाई शुरू हो गई। इस दौरान सभी स्कूलों ने परिसर को सेनेटाइज किया। मुख्य गेट पर आने वाले छात्रों की स्कैनिंग करने के बाद विद्यालय परिसर में जाने की इजाजत दी गई। विद्यायल प्रबंधन ने नौवीं व दसवीं के छात्रों को क्लास में पचास प्रतिशत की उपस्थिति के साथ बुलाया था। छात्रों को विद्यालय में आने से पूर्व मास्क, सोशल डिस्टेंसिंग, स्कैनिंग, मेडिकल चेकअप किया गया। पहले दिन क्लास में छात्रों को शरीर में होने वाले संक्रमण और इससे रोकथाम के संबंध में जानकारी दी गई। उनको कोविड संक्रमण से शरीर के होने वाले नुकसान और उससे बचाव के संबंध में भी जानकारी शिक्षकों द्वारा दी गई। विज्ञानानंद केंद्रीय विद्यालय में बच्चों को पढ़ाने वाले अभिभावक सरोज सिंह, शमशाद खान, नेयाज आलम, सनोज सिंह ने विद्यालय प्रबंधन द्वारा की गई व्यवस्था के प्रति पूर्ण रूप से संतोष जाहिर किया। उनका कहना था कि विद्यालय प्रबंधन ने केंद्र व राज्य सरकार द्वारा जारी कोविड गाइडलाइन को पूर्ण रूप से पूरा करते हुए स्कूल खोला है। विज्ञानानंद स्कूल के प्रबंधक विलास गिरि का कहना है कि विद्यालय को राज्य सरकार से मिले निर्देशों पर ही खोला गया है। छात्रों शिक्षकों और स्कूल कर्मियों को इस संबंध में पूरी तरह जानकारी दे दी गई है। स्कूल की प्रिंसिपल जया कुमारी ने बताया कि सरकार से सभी नियमों का पालन करते हुए स्कूल को पुनः खोला गया है। छात्रों के प्रति सभी शिक्षकों को निर्देशित किया गया है कि सभी छात्रों को कोरोना गाइड लाइन का पालन करते हुए स्कूल में एंट्री का आदेश निर्गत करें।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

क्या कहते हैं छात्र-छात्राएं

छात्र अभिषेक कुमार ने बताया कि स्कूल प्रबंधन द्वारा कोरोना गाइड लाइन का पूरी तरह पालन किया जा रहा है। हमलोगों को भी कोरोना से बचाव के लिए कई सुझाव शिक्षकों द्वारा दिया गया है। छात्रा मनीषा कुमारी ने बताया कि हमलोग घर से ही मास्क व सैनेटाइजर लेकर आए थे। स्कूल को भी पूरी तरह से सैनेटाइज्ड किया गया था। शिक्षकों द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग में क्लस में पढ़ाया गया।