सिवान: करीब डेढ़ माह से अबू धाबी सेंट्रल जेल में बंद है सिवान का युवक

0
  • सऊदी अरब के जेद्दा स्तिथ एटको कंपनी में वेअर हाउस ऑफिसर के पद पर तैनात था युवक
  • एटको कंपनी में पिछले पांच वर्षों से थे कार्यरत
  • पिछले 11 नवंबर को छुट्टी पर अपने स्वदेश आ रहा था युवक
  • अबू धाबी स्थिति एयरपोर्ट पर पुलिस ने गिरफ्तार कर भेजा है सेंट्रल जेल
  • गिरफ्तार युवक सिवान जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के आकिल टोला का है मूल निवासी
  • पत्नी समेत छोटे-छोटे बच्चों का रोते-रोते हुआ बुरा हाल

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
अबू धाबी स्थिति एयरपोर्ट पर पर तैनात पुलिसकर्मियों की घोर लापरवाही से बिहार के सिवान जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के आकिल टोला गांव का एक युवक करीब डेढ़ माह से सेंट्रल जेल में बंद है। करीब डेढ़ माह से जेल में बंद होने के कारण उसकी पत्नी समेत छोटे-छोटे बच्चों का रोते-रोते बुरा हाल हो चुका है।आबू धाबी स्थित सेंट्रल जेल में बंद सिवान जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के आकिल टोला गांव निवासी अली ईमान के पुत्र शमीम अहमद(34वर्ष)के रिहाई के लिए उसके परिजनों ने इंडिया एंबेसी से लेकर अबू धाबी स्तिथ सेंट्रल जेल से ईमेल के जरिए न्याय की गुहार लगाई गई इसके बावजूद भी उन्हें ई-मेल के जरिए भेजे गए आवेदन पर सिर्फ आश्वासन ही मिल रही है। उधर बार-बार ई-मेल द्वारा भेजे गए आवेदन पर सिर्फ आश्वासन मिलने से परिजनों की बेचैनी और बढ़ते जा रही है।अबू धाबी स्थित सेंट्रल जेल में बंद शमीम अहमद(34वर्ष) की पत्नी शाईस्ता खातून ,दो छोटे-छोटे बच्चों में क्रमशः कैफ अहमद (7 वर्ष), सारा खातून(3 वर्ष) का रोते रोते उसके रिमझिम आंखों के आंसू हीं सुख गए हैं। यहां बताते चले कि शाईस्ता खातून के पति शमीम अहमद(34 वर्ष) ने सऊदी अरब के जेद्दा स्तिथ एटको कंपनी परिसर से अपने स्वदेश आने की सूचना वीडियो कॉलिंग के माध्यम से अपने परिजनों को दी, लगभग 5 वर्षों से सऊदी अरब के जेद्दा में कार्यरत शमीम अहमद के स्वदेश आने की सूचना पर परिजन खुशी से झूम उठे। शमीम अहमद ने बीते एक 11 नवंबर को सऊदी अरब के जेद्दा के किंग अब्दुल अजीज इंटरनेशनल एयरपोर्ट सऊदी अरब से वाया अबू धाबी होते हुए भारत की राजधानी दिल्ली आ रहे थे कि इसी बीच, जिस हवाई जहाज से वह सफर कर रहे थे कि उसका स्टॉपेज करीब 8 घंटे के लिए अबू धाबी स्थिति एयरपोर्ट पर हुआ।इसी बीच ट्रांजिट के समय अबू धाबी एयरपोर्ट पुलिस ने शमीम अहमद को गिरफ्तार कर पूरे सामान के साथ अपने साथ लेकर चली गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

क्या है मामला

शमीम अहमद जिनका पासपोर्ट नंबर एस 2376634 इतना है।और वे एटको कंपनी में पिछले पांच वर्षों से हैं। और वे 11 नवंबर को छुट्टी पर अपने स्वदेश आ रहे थे। जब अबू धाबी स्थिति एयरपोर्ट पर पुलिस ने उन्हें हिरासत में लिया तो शमीम अहमद ने हिरासत में लिए जाने का कारण पूछा तो मौजूद पुलिसकर्मियों द्वारा बोला गया कि तुम सरफराज अहमद हो,जैसे ही शमीम अहमद ने सरफराज अहमद का नाम सुना तो वे भौंचक चक रह गए।तथा मौजूद पुलिसकर्मियों को शमीम अहमद ने अपना सारा डॉक्युमेंट्स दिखाने लगे,इसके बावजूद भी जिस एयरपोर्ट से उन्हें हिरासत में लिया गया था,वहां मौजूद पुलिसकर्मियों ने उनकी बातें नहीं सुनी तथा उन्हें हिरासत में लेकर अपने साथ लेकर चली गई, यहां बताते चले कि मोहम्मद सरफराज अहमद नामक व्यक्ति की जगह पर जालसाजी के आरोप में अबू धाबी स्थिति एयरपोर्ट पर तैनात पुलिस ने गिरफ्तार कर शमीम अहमद को गिरफ्तार कर सेंट्रल जेल भेजा है।