कोको-कोला एजेंसी में तस्करी का शराब बरामद, 7 गिरफ्तार

0

पटना: पुलिस ने कोको-कोला एजेंसी में रेड किया तो कीमती शराब के 17 बड़ी बोतल बरामद किया। तस्करी से जुड़े 7 लोगों को गिरफ्तार किया गया हैं। बताया जा रहा है कि यह एजेंसी किसी BJP नेता का है। पुलिस बीजेपी नेता के गिरफ्तारी में विभिन्न जगहों पर रेड किया हैं। बीजेपी नेता की पत्नी दीघा पश्चिमी से वार्ड पार्षद है और हाल में उप मेयर की चुनाव लड़ी हैं, जिसमें हार गयी । पटना में शराब माफियाओं के खिलाफ बड़ी कार्रवाई पुलिस ने शुरू कर दिया हैं। इसी क्रम में दीघा थानाध्यक्ष को सूचना मिली की दीघा स्थित कोको-कोला एजेंसी से विदेशी कीमती शराब की तस्करी की जा रही हैं। वरीय पुलिस अधिकारियों को सूचना देते हुये थानाध्यक्ष राजेश कुमार सिन्हा ने भारी पुलिस बल के साथ कोको-कोला एजेंसी में रेड किया। पुलिस को देखते ही इधर-उधर भागने लगे।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

पुलिस ने पीछा कर 7 लोगों को दबोच लिया। कई भागने में कामयाब रहे लेकिन पुलिस के हाथ सीसीटीवी हाथ लग गयी हैं । पुलिस ने कोको-कोला एजेंसी में तलाशी लेना शुरू किया तो कीमती शराब 100 पाइपर और रॉयल स्टेज की 17 बड़ी अंग्रेजी शराब बरामद किया हैं। गिरफ्तार लोगों ने पुलिस को बताया की कोको-कोला एजेंसी बीजेपी नेता सह पूर्व मुखिया निलेश यादव उर्फ निलेश मुखिया का हैं। सुत्रों की मानें निलेश मुखिया पुलिस को चक्मा देकर भागने में कामयाब रहे । पुलिस का कहना है की कोको-कोला एजेंसी निलेश यादव का है, विधि सम्मत कार्रवाई किया जायेगा । एजेंसी को सील किया जायेगा ।

बिहार में शराबबंदी कानून लागू है। इसके सेवन से लेकर तस्करी तक प्रतिबंध हैं । लेकिन निलेश मुखिया के कोको-कोला एजेंसी में कीमती शराब का मिलना है प्रदर्शित करता है की बड़े स्तर पर राजधानी में शराब की तस्करी की जा रही हैं । शराबबंदी के पूर्व निलेश मुखिया का शराब का कारोबार था। दीघा में शराब का दो ठेका था। वर्ष 2016 में कोलड्रिंक के बोतल में शराब की बोतल के साथ गार्ड और चालक पकड़ाया था ।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here