जहरीली शराब से सारण में अब तक 14 की मौत….कई की आंखों की रोशनी चली गयी…

0

छपरा: मकेर थाना क्षेत्र के जगदीशपुर जनता बाजार में कथित तौर पर जहरीली शराब पीने से मौत का सिलसिला थम नहीं रहा है। अब तक एक दर्जन से ज्‍यादा मौत हो चुकी है। कई लोगों की आंखों की रोशनी चली गई है। उन्‍हीं में से एक सूरज बैठा की मौत पटना के एक अस्‍पताल में इलाज के दौरान हो गई। रोशनी गंवा चुके दो लोगोंं का इलाज अभी चल रहा है। बताया जाता है कि अभी तक कुल 14 लोगों की मौत हो चुकी है। अमनौर थाना क्षेत्र में भी दो लोगों ने दम तोड़ा है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

क्षेत्र में लगातार हो रही मौत एवं शराब की बिक्री को लेकर लोग संबंधित थानों के पुलिस पदाधिकारियों को दोषी ठहरा रहे हैं। ग्रामीणों का कहना है कि पुलिस प्रशासन अगर सही दिशा में काम करती तो शायद शराब की बिक्री नहीं होती और इतने लोगों की जान नहीं जाती। वे कह रहे हैं कि अभी ना जाने और कितनों का घर उजड़ेगा। पटना के अस्‍पताल में सूरज की मौत का जिम्‍मेदार उसके बहनोई अरविंद कुमार ने जहरीली शराब को बताया। अरविंद कुमार ने कहा कि क्षेत्र में जहरीली शराब की बिक्री नहीं रुक रही है। वे लोग मकेर थाना का घेराव करेंगे।

लोगों का आरोप है कि पुलिस-प्रशासन ने सिर्फ मकेर थाना क्षेत्र के आसपास के इलाकों में कार्रवाई की है। यही करवाई अगर जिले के अन्‍य थाना क्षेत्रों में भी गंभीरता से होती तो शराब की बिक्री पर पूरी तरह से रोक लगाई जा सकती है।

सारण के एसपी ने कहा है कि छापेमारी की जा रही है। शराब बनाने की सामग्री बरामद की गई है। स्पिरिट भी मिला है। शराब बनाने मे क्‍या-क्‍या सामग्री इस्‍तेमाल की गई इसकी जांच की जाएगी। गिरफ्तारी का सिलसिला लगातार चल रहा है। उन्‍होंने कहा कि जहरीली शराब से मौत की बात से इंकार नहीं किया जा सकता। लेकिन सारी बातें अनुसंधान में ही स्‍पष्‍ट हो सकेगी।