कोरोना से बचाव के लिए गुठनी अस्पताल में छिड़काव

0
hospital

परवेज अख्तर/सिवान : कोरोना वायरस के संक्रमण से बचाव के लिए पीएचसी में गुरुवार को ब्लीचिंग का छिड़काव किया गया। इस दौरान पूरे अस्पताल परिसर के कक्ष को पूरी तरह सेनेटाइज किया गया। डॉ. शब्बीर अख्तर ने बताया कि सीएस, डीएम, एसडीओ व स्वास्थ्य विभाग के सख्त आदेश के बाद ऐसा कदम उठाया गया। हेल्थ मैनेजर जितेंद्र सिंह ने बताया कि सरेया स्थित आरबीटी में बने आइसोलेशन
वार्ड में ब्लीचिंग पाउडर का छिड़काव नहीं हो पाया है। इसकी जानकारी सीएस
को दे दी गई है। इस दौरान मेडिकल टीम ने अस्पताल में बने काउंटर का
लेखा-जोखा, विदेश से आने वालों का रिकॉर्ड, आइसोलेशन वार्ड में रखे गए
लोगों का रिकॉर्ड व स्थानीय लोगों के रिकॉर्ड को भी निरीक्षण किया।
आइसोलेशन वार्ड के लिए डॉ. एजाज अहमद, डॉ. हारून रशीद, डॉ. संजय कुमार व
अरविंद कुमार को प्रतिनियुक्त किया गया है। उन्होंने बताया कि आइसोलेशन
वार्ड में मेडिकल टीम, स्वास्थ्य काउंटर, क्वारंटाइन काउंटर व मनोरंजन की
व्यवस्था पूरी कर ली गई है। पीएचसी से मिली जानकारी के अनुसार 30 मार्च
से अबतक कुल 26 लोगों को क्वारंटाइन सेन्टर भेजा गया है। विशेष से घर आने
वालों पर विशेष प्रशासन का विशेष ध्यान है।
लॉकडाउन तोड़न वालों पर होगी कठोर कार्रवाई
स्थानीय प्रशासन ने लाउडस्पीकर से गुरुवार को आम लोगों को संदेश दिया कि
अनावश्यक रूप से बाजार, गांव प आसपास में किसी भी तरह की भीड़ नहीं
लगाएं। बहुत जरूरी हो तब ही घर से बाहर निकले। अगर ऐसा नहीं करते तो आप
के खिलाफ कठोर कार्रवाई की जाएगी। बीडीओ धीरज कुमार दूबे ने बताया कि
लॉकडाउन को सख्ती से पालन कराना ही प्रशासन का उद्देश्य है। उन्होंने
गुठनी, बलुआ, सेलौर, जतौर, धनौती, तेनुआ, गोहरुआ सहित कई बाजारों का भी
निरीक्षण किया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal