हुसैनगंज थाने में पदस्थापित एसएसआइ सुरेंद्र कुमार गहलौत हत्याकांड के आरोपित फिरोज छपरा से गिरफ्तार

0
  • नालंदा जिले के राजगीर थानांतर्गत डुमरी गांव के निवासी थे गहलौत
  • 2020 में हुसैनगंज थाने में दिया था योगदान

✍️परवेज अख्तर/एडिटर इन चीफ:
हुसैनगंज थाने में पदस्थापित एएसआइ सुरेंद्र कुमार गहलौत के हत्यारोपित और शराब तस्कर फिरोज अंसारी को हुसैनगंज थाने की टीम ने एक गुरुवार को गुप्त सूचना के आधार पर छपरा से गिरफ्तार कर लिया है। इसके पूर्व दो आरोपित मुकेश कुशवाहा और गाड़ी चालक विवेक कुशवाहा तथा लाइनर संजीत यादव को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। ज्ञात हो कि थाना क्षेत्र के सिधवल पंचायत के टिकरी के पास परशुरामपुर मोड़ पर 25 मई की रात टेढ़ीघाट में गश्त के दौरान स्थानीय पुलिस को गुप्त सूचना मिली थी कि यूपी से कार द्वारा शराब की बड़ी खेप आ रही है। सूचना पाते ही एएसआइ सुरेंद्र कुमार गहलौत दलबल के साथ छापेमारी करने के लिए निकल पड़े। जैसे ही टिकरी नहर के पास परशुरामपुर मोड़ पर पहुंचे तो एक सफेद रंग की इनोवा कार आती दिखाई दी।

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

उन्होंने कार को रोकने का इशारा किया, लेकिन चालक गश्त की गाड़ी में जोरदार टक्कर मारकर दिया इससे गाड़ी का अगला चक्का क्षतिग्रस्त हो गया तथा चौकीदार बाबुधन मांझी भी घायल हो गए। यह देख एएसआइ गाड़ी को रोकने की कोशिश की, लेकिन कार चालक ने उन्हें कुचलते हुए 50 मीटर दूर तक घसीट दिया इससे उनकी घटनास्थल पर ही मौत हो गई थी। मृत एएसआइ सुरेंद्र गहलौत मूलरूप से नालंदा जिले के राजगीर थानांतर्गत डुमरी गांव के निवासी थे। उन्होंने अगस्त 2020 में हुसैनगंज थाने में योगदान किया था। इस संदर्भ सअनि अनिल कुमार सिंह के आवेदन के आधार पर तीन शराब तस्कर के विरुद्ध प्राथमिकी की गई है। इसमें यूपी के देवरिया जिला निवासी अखिलेश भारती, हुसैनगंज थाना के शंकरपुर निवासी फिरोज अंसारी और टिकरी निवासी मुकेश कुशवाहा नामजद है। थानाध्यक्ष रामबालक यादव ने बताया कि फिरोज अंसारी पर हत्या सहित कई मामले दर्ज हैं।