मौत बनकर आई आंधी और आसमानी बिजली, मुजफ्फरपुर में 6 लोगों ने गंवाई जान

0

पटना: बिहार के मुजफ्फरपुर में आई भीषण आंधी, आसमानी, बिजली और बारिश की वजह से 6 लोगों की मौत हो गई. गुरुवार की देर शाम आंधी आने के बाद  जिले के विभिन्न इलाकों में आधा दर्जन से ज्यादा लोगों की जान चली गई.

विज्ञापन
WhatsApp Image 2023-01-25 at 10.13.33 PM
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

पारू थाना क्षेत्र में एक ही परिवार में दादा-पोती की पेड़ गिरने से मौत हो गई. वहीं पारू के ही मदन छपरा में पेड़ गिरने से एक महिला की मौत हो गई. तीसरी घटना कटरा थाना क्षेत्र के खंगुरा की है जहां ठनका गिरने से 14 साल के एक लड़के की मौत हो गई.

पारू इलाके की निवासी राजपति देवी की मौत को लेकर उनके दामाद ने बताया कि सास आंधी में गाय को बचाने गई थीं, उसी दौरान पेड़ गिर जाने से उनकी मौत हो गई. राजपति देवी को बचाने की कोशिश की गई लेकिन तब तक उनकी मौत हो चुकी थी.

दूसरी घटना पारू थाना के ही केशोपुर बभनगांव की है. जहां सत्येंद्र राम की बेटी और उनके पिता की मौत भी पेड़ गिरने की वजह से हो गई. सत्येंद्र ने बताया कि आंधी के कारण पेड़ पिता के ऊपर ही गिर गया, जिससे दबने की वजह से उनकी और बेटी की मौत हो गई.

मुजफ्फरपुर जिले के कटरा थाना क्षेत्र के रहने वाले रामप्रवेश राम ने बताया की उनका 14 साल का भतीजा शशिरंजन भैंस चरा कर लौट रहा था. भैंस के बच्चे के धीरे चलने के कारण वह पिछड़ गया और इसी बीच बिजली गिरने से उसकी मौत हो गई.

पारू थाने के पुलिस अधिकारियों ने तीन शवों का पोस्टमार्टम कराया है जबकि बाकी तीन लोगों के शवों का पोस्टमार्टम आपदा प्रबंधन विभाग की तरफ से कराया गया है.

बता दें कि बिहार में प्रचंड गर्मी के बाद आए आंधी-तूफान ने राहत से ज्यादा लोगों को खौफ में डाल दिया है. कुछ घंटों की बारिश और आंधी की वजह से 16 जिलों में 33 लोगों की मौत हो गई है. आकाशीय बिजली गिरने के कारण सभी ने जान गंवाई है. मुख्यमंत्री नीतीश कुमार की तरफ से मृतकों के आश्रितों को तत्काल 4-4 लाख रुपये सहायता राशि देने का ऐलान कर दिया गया है.