शौच करने के लिए दो गांवों के बीच जमकर मारपीट

0
marpit

गुरुवार की संध्या शौच करने से मना करने पर जमकर मारपीट कई घायल

परवेज अख्तर/सिवान :- सरकार ने सभी पंचायतों में लोगो के घरों में शौचालय निर्माण कर पंचायतों को ओडीएफ घोषित किया है. केंद्र व प्रदेश सरकार देश को स्वच्छ बनाने के लिए खुले में शौच मुक्त करने का अभियान चलाया जा रहा हैं. सरकार खुले में शौच मुक्त करने की दिशा में कार्य कर रही है.अधिकांश पंचायत को खुले में शौच मुक्त घोषित भी किया जा चुका है. बताते चलें कि मुफस्सिल थाना क्षेत्र के गुरुवार की देर संध्या मर्दापुर पूरब टोला और बरहन पूरब टोला गांव के लोगो के बीच जमकर मारपीट हुई.

विज्ञापन
aliahmad
vig
web designing

मारपीट की सूचना पर पहुंची पुलिस मामले की जांच में जुट गई .यह मारपीट केवल शौच करने को लेकर हुई है. इस मामले में दोनों गांव के लोगों ने स्थानीय थाना में प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन दिया है. बरहन गांव से मिली जानकारी के अनुसार गांव में बरसात के पानी लगने से लोगों को शौच जाने में काफी कठिनाइयां होती है. क्योंकि कई ऐसे शौचालय हैं जो घर के पीछे बने हैं और उसमें पानी लग चुकी है. जिसके कारण महिलाएं गांव से बाहर शौच के लिए जाती हैं. महिलाओं ने आरोप लगाते हुए कहा है कि हम लोग जब भी शौच के लिए बाहर जाते हैं तो मर्दापुर गांव वाले टॉर्च जला जला हमें परेशान करते हैं. जिसका विरोध हमने गुरुवार को किया.

इसको लेकर जब हमारी आवाज गांव के लोगों ने सुनी तो वह लोग वहां गए और दोनों गांव के बीच मारपीट हुई. वही दूसरे पक्ष के मर्दापुर गांव के लोगों का कहना है कि पंचायत ओडीएफ हो चुकी है और लोगों को शौचालय में ही शौच करना चाहिए लेकिन लोग सड़कों पर ही सोच करते हैं.हम लोगो को आने जाने में कठिनाई होती है.जिसको लेकर हम लोगों ने विरोध किया और दोनों गांव के बीच मारपीट हुई. वही मर्दापुर गांव वाले गांव के लोगों ने यह भी कहा कि मारपीट के दौरान जो लोग बचाव के लिए गए हैं उन्हीं लोगों के ऊपर बरहन गांव के लोगों ने प्राथमिकी दर्ज करने के लिए आवेदन दिया है.यह गलत है पुलिस दोनों आवेदनों के बाद घटनास्थल पर पहुंच मामले की जांच में जुट गयी.

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here