सुग्रीव दास, अंतिम दर्शन को उमड़ी भीड़

0
sugriv

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के दरौली थाना क्षेत्र के प्रसिद्ध संत सुग्रीव दास (97) का निधन मंगलवार की रात्रि हो गया। स्थानीय लोगों ने बताया कि दोन के पास लेजा में जन्मे महात्मा सुग्रीव दास बचपन से ही संत प्रवृति के थे। परिवार के दबाव में उन्होंने विवाह किया, लेकिन जल्द ही अयोधया में जाकर हनुमानगढ़ी से दीक्षित हो गए। दीक्षा लेने के बाद संपूर्ण महात्मा वेश में रहने लगे। अपने जन्मभूमि पर श्रीराम दरबार का मंदिर,शिव मंदिर, हनुमान मंदिर समेत दरौली थाना क्षेत्र के विश्वानिया,सारना समेत दर्जनों स्थानों पर मंदिर की स्थापना कर दर्जनों महायज्ञ किराए। बीच में कई बीमारियों से पीड़ित हो गए थे। महात्मा जी के निधन से क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है।