बभनबारा शरीफ में जलसे तफ्जुल कुरान का हुआ आयोजन, दहेज़ व फिजूलखर्ची से बचने की नसीहत

0

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के बड़हरिया प्रखंड के दारुल उलूम रशीदिया कुतुबूल हिन्द वली बभनबारा शरीफ के प्रांगण में जलसे तफ्जो क़ुरान का आयोजन किया गया. दरअसल जलसा का मकसद वसीम रिज़वी के कुरान के 26 आयतों को कुरान से हटाने के लिए कोर्ट के रुख किया है, उसके खिलाफ इस जलसे का आयोजन किया गया था. जलसे में तकरीर करते हुए मौलाना मजरूल हक कादरी ने कहा कि ये रिज़वी कितने लोगों के दिलों से  कुरान को निकालोगे, यह अल्लाह की किताब है. उन्होंने  रिज़वी को बददुआ देते हुए कहा कि रिजवी पर अल्लाह का ऐसा कहर नाजिल होगा, जो वह सह नहीं सकेगा. वहीं मौलाना मजरूल हक कादरी ने आयशा का जिक्र करते हुए दहेज़ नहीं लेने की अपील की.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

उन्होंने कहा कि जो पैसा आप आर्केस्ट्रा या ऐसी अन्य फिजूल चीजों में खर्च करने करते हैं, उस पैसे से किसी गरीब या यतीम लड़की की शादी करवाने में  देने की अपील की. उन्होंने वसीम रिज़वी के ऊपर लानत भेजा व कहा कि कुरान अल्लाह की किताब है. मौके पर मौलाना मजरुल हक कादरी, मौलाना अब्दुल बारी सिद्दीकी, हाफ़िज़ क़ुरान वसीम रिज़वी, हाफ़िज़  गुलाम याजदानी, अरशद इकबाल, अख्तर जिया, राज मोहम्मद उर्फ मुन्ना अहमद, क्यामूद्दीन आदि ने अपनी-अपनी बातें रखीं. जलसे में मुखिया मुन्ना अहमद, पूर्व जिला पार्षद मो सोहैल, फसीउ जमा,जदयू नेता मुर्तुजा अली पैगाम, पूर्व उपप्रमुख फहीम आलम, खुर्शीद आलम, नवाज़ शरीफ़, अखलाक अहमद, आमिर खुर्शीद, मो मन्नान, इसरारुल हक, सहीदुल हक, उमैरुल हक, मकसूद आलम, शफीउल हसन आदि मौजूद थे.