ऋण माफी व सूखा ग्रस्त की मांग को ले राजद का धरना

0
dharna

परवेज अख्तर/सिवान : किसानों की ऋण माफी तथा प्रदेश को सूखा ग्रस्त घोषित करने की मांग को ले राजद कार्यकर्ताओं ने मंगलवार को समाहरणालय पर धरना दिया। धरना की अध्यक्षता राजद जिलाध्यक्ष परमात्मा राम ने की। धरने को संबोधित करते हुए पूर्व मंत्री अवध बिहारी चौधरी ने कहा कि बिहार के किसान जो ऋण लेकर खेती करता है मौसम की मार, नकली खाद-बीज के प्रयोग तथा उसकी उपज के लिए उपयुक्त बाजार नहीं मिलने के कारण उसकी मेहनत तथा उपज का लागत नहीं मिलने के कारण प्रतिवर्ष घाटा उठाते हैं जिसके कारण तनाव में रहते हैं। वह सरकारी ऋण
चुकाने में असमर्थ हैं तथा बार-बार आत्महत्या की बात सोचते हैं। हमलोगों की सरकार से मांग है कि किसानों की ऋण माफ किया जाए तथा इस वर्ष मानसून नहीं होने से बिहार सूखा की स्थिति में है इस कारण बिहार को सूखाग्रस्त घोषित किया जाएगा। जिलाध्यक्ष ने कहा कि किसानों के हित में हमारी मांगों को नहीं मानने पर हम सड़क पर उतरने तथा लोकतांत्रिक तरीके से सरकार के खिलाफ आवाज बुलंद करेंगे। वहीं पूर्व मंत्री इंद्रदेव प्रसाद ने सरकार को किसान विरोधी बताया। धरना की समाप्ति के बाद राजद कार्यकर्ताओं ने राज्य की गिरती विधि-व्यवस्था तथा व्याप्त भ्रष्टाचार के खिलाफ जेपी चौक पर मुख्यमंत्री का पुतला दहन किया। धरने को लीलावती गिरि, कृष्णा देवी, रेनु सिंह, रश्मी कुमारी, सुरेंद्र पांडेय, ओसिहर यादव, उमेश कुमार,चंद्रमा प्रसाद, मो. फजलुद्दीन, लड्डन खान, संजय कुशवाहा, अशोक राय, अरविंद गुप्ता, हरिश्चंद्र जायसवाल, अजय चौहान, हरेंद्र सिंह पटेल,एहतेशामुल हक सिद्दीकी, अजय जायसवाल गुड्डू, रंजीत यादव,विजय जायसवाल आदि ने संबोधित किया। इस मौके पर कमलेश बैठा, रामदेव राम, ओमप्रकाश यादव, अवधेश चौहान, रवींद्र यादव,अनिल यादव, लालबाबू चौधरी, भोला चौधरी, जितेंद्र सिंह, शैलेंद्र यादव,ललन यादव, परवेज आलम, अविनाश कुशवाहा, अफजल मुखिया, लक्की बाबू, अफजल इकबाल सना, शंकर प्रसाद, रेयाज अहमद आदि उपस्थित थे। धरने के दौरान मांगों का ज्ञापन जिलाधिकारी के माध्यम से राज्यपाल
को दिया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal