तरैया पुलिस को बड़ी सफलता लगी हाथ, छापेमारी में 16 सौ लीटर देसी शराब एक पिकअप व बाइक बरामद

0

छपरा: तरैया पुलिस इस समय छापेमारी व शराब बरामदगी के मामले में काफी एक्टिव मोड में नजर आ रही है। थाना क्षेत्र में लगातार छापेमारी हो रही है और भारी मात्रा में शराब भी बरामद किए जा रहे हैं। गुप्त सूचना के आधार पर थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने एक टीम का गठन किया और तरैया पचभिण्डा रोड में देवेंद्र सिंह के सीमेंट बालू दुकान के कैंपस में छापामारी किया। इस कैंपस में देवेंद्र सिंह द्वारा बाहर से भूसा मंगा कर लोकल स्तर पर भूसा बेचने का कारोबार किया जाता है। छापेमारी के दौरान भूसा के पास एक सफेद रंग के पिकअप और एक लाल रंग की अपाची मोटरसाइकिल लगा हुआ था और पांच छह लोग पिकअप पर कुछ लोड कर रहे थे। इस दौरान पुलिस की गाड़ी को देखते वे सभी लोग भागने लगे। पुलिस उनका पीछा कर दो व्यक्तियों को पकड़ लिया। जबकि अन्य व्यक्ति अंधेरे का फायदा उठाकर भागने में सफल रहे। गिरफ्तार व्यक्ति अपना नाम धनंजय कुमार और विवेक कुमार बताया। पिकअप पर व पिकअप के आसपास 8 बड़े ड्राम जिसमें सोलह सौ लीटर देसी शराब भरा हुआ था, पाया गया।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
Webp.net-compress-image
a2

गिरफ्तार व्यक्ति धनंजय कुमार ने पूछताछ के दौरान बताया कि भूसा में छुपा कर रखा देसी शराब 26 दिसंबर को 10 चक्का ट्रक से भूसा में छुपा कर लाया गया था। जिसे मैं तथा अन्य व्यक्ति मिलकर उतारे थे। उसमें से 10 ड्रम शराब इसुआपुर के लौंवा निवासी ललन राय पिकअप से ले गए थे तथा 10 ड्रम विजय राय गलीमापुर के द्वारा भेजा गया था जिसमें से चार ड्रम जगदीश मांझी पोखरेड़ा तथा सचिन राम गलीमापुर के यहां उतारा गया। तीन ड्रम विजय राय अपने घर पर उतारे। 8 ड्रम शराब बच गया जिससे भूसा में छुपा दिया गया और दूसरे दिन उठाकर भेजा जा रहा था।

गिरफ्तार व्यक्ति ने बताया कि इस धंधे में देवेंद्र सिंह के पार्टनर इंद्रजीत सिंह देवरिया शामिल हैं और विजय यादव से मिलकर तीनों व्यक्ति बाहर से ट्रक में शराब मंगाते हैं तथा चोरी-छिपे उतारकर पिकअप से अन्य जगहों पर भेजे जाते हैं। इस संबंध में तरैया थानाध्यक्ष राजेश कुमार ने प्राथमिकी दर्ज करते हुए 11 लोगों को आरोपित किया है। प्राथमिकी दर्ज होने के बाद गिरफ्तार दोनों व्यक्तियों को पुलिस छपरा न्यायालय में उपस्थिति हेतु भेज दी है। इधर पुलिस की लगातार छापेमारी से शराब कारोबारियों में बेचैनी बढ़ गई है। छापेमारी में अधिक मात्रा में देशी शराब बरामद होने से पुलिस के हौसले बुलंद हैं तथा पुलिस एक के बाद एक सफलता अपने नाम करते जा रही है।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here