दो हजार लीटर के उपर के शराब कांडों में अभियुक्तों की होगी संपति जप्त: डीआईजी सारण

0

आपकों बता दें कि पूरे मढ़ौरा अनुमंडल में बड़े पैमाने पर शराब बरामदगी के मामले मशरक थाना में ही दर्ज हुएं हैं 28 केसों में 20 मशरक थाना क्षेत्र के ही हैं

छपरा: अवैध शराब बिक्री और भंडारण करने वालों के लिए अब थाना पुलिस काल बनकर उनकेे द्वारा अवैध शराब से कमाई संपति को जप्त करने की करवाईं की शुरुआत कर दी गई है। इस मामले में डीआईजी विजय कुमार वर्मा ने जिले के मशरक थाना से शुरूआत करने का आदेश जारी किया। मढौरा अनुमंडल के विभिन्न थाना में लंबित शराब की खेप जब्त कांड के कुल 28 मामले को लेकर सारण रेंज के डीआईजी विजय कुमार वर्मा ने मंगलवार की रात मशरक थाना परिसर में पुलिस पदाधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक कर आवश्यक दिशा निर्देश दिया। बैठक में डीएसपी मढौरा इंद्रजीत बैठा, पुलिस इंसेक्टर मशरक उदय प्रताप सिंह, थानाध्यक्ष रत्नेश कुमार वर्मा सहित सीमावर्ती थाना के पुलिस पदाधिकारी शामिल हुए। डीआईजी ने बताया कि कुल लंबित 28 मामले में 20 केस सिवान गोपालगंज जिला के सीमा पर अवस्थित मशरक थाना में जबकि 8 अनुमंडल मुख्यालय मढौरा थाना के अंतर्गत है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

इन मामलो में नामजद स्थानीय तथा यूपी , हरियाणा एवं अन्य शहर के कारोबारियों के खिलाफ टीम बनाकर एक साथ कार्रवाई की जाएगी। जब्त वाहनो के चालक एवं खलासी के आवासीय पते पर सत्यापन शीघ्र कराने का निर्देश दिया गया। डीआईजी ने पत्रकारों को बताया कि ऐसे मामलों में नामजद स्थानीय एवं बाहर के शराब कारोबारियों के खिलाफ शीघ्र कार्रवाई पूरी कर आय से अधिक सम्पत्ति जब्त करने की कार्रवाई टीम बनाकर करने की प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। छपरा शहर से लेकर ग्रामीण इलाकों तक देशी शराब,महुआ शराब सहित दर्जनों भठ्ठियों को टीम बनाकर ध्वस्त किया गया है। आपकों बता दें कि पूरे मढ़ौरा अनुमंडल में बड़े पैमाने पर शराब बरामदगी के मामले मशरक थाना में ही दर्ज हुएं हैं 28 केसों में 20 मशरक थाना क्षेत्र के ही हैं।