अधिकारियों की अनुपस्थिति को लेकर बैठक का किया बहिष्कार

0
bahishkar

परवेज अख्तर/सिवान : जिले के पचरुखी प्रखंड मुख्यालय स्थित सभाकक्ष में बुधवार को बीडीसी की बैठक में अधिकारियों की अनुपस्थिति पर सदस्यों ने जमकर हंगामा किया। साथ ही विगत बैठक में अधिकारियों की अनुपस्थिति पर कार्रवाई नहीं होने से असंतुष्ट जाहिर करते हुए बीडीसी सदस्यों ने बैठक का बहिष्कार कर दिया। सदस्यों का कहना था कि प्रखंड में न आंगनबाड़ी केंद्र सही ढंग से चल रहे हैं न स्कूलों का संचालन ठीक से हो रहा है। सीडीपीओ व बीईओ मुख्यालय में कब रहते हैं किसी को पता भी नहीं चलता है। खासकर जब बैठक होती है, तो प्रखंड के कई पदाधिकारी अनुपस्थित रहते हैं। आंगनबाड़ी में वसूली का सिलसिला थमने का नाम नहीं ले रहा है। पचरुखी मुखिया संघ के अध्यक्ष संजय सिंह ने अधिकारियों को जनप्रतिनिधियों से अमर्यादित शब्दों का प्रयोग नहीं करने की चेतावनी दी। सख्त शब्दों में कहा कि अगर पचरुखी के अधिकारियों एवं कर्मचारियों की कार्यशैली में बदलाव नहीं आया तो वे अभूतपूर्व कदम उठाने को मजबूर होंगे। साथ ही अपने पद से त्याग पत्र दे देंगे। उन्होंने प्रखंड के पंचायत सचिवों की कार्यशैली पर सवाल उठाते हुए जमकर भड़ास निकाली। कहा कि पंचायत सचिव एवं हल्का कर्मचारियों से संबंधित आम समस्याओं को लेकर ग्रामीण हर रोज मुख्यालय का चक्कर काटते हैं, लेकिन कर्मियों से भेंट नहीं होती है। बीडीसी प्रकाश पांडेय एवं जयशंकर सिंह ने मनरेगा जेई पर विभागीय कार्रवाई की मांग की। बीडीओ डॉ. मो. ईस्माईल अंसारी ने पत्र भेज जिला पदाधिकारी को तीनों अधिकारी सीडीपीओ, विद्युत कनिष्ठ अभियंता तथा कल्याण पदाधिकारी के खिलाफ सदस्यों द्वारा आरोपों को देखते एक दिन का वेतन काटने के साथ उचित कार्रवाई की मांग की। मौके पर प्रमुख शहनाज खातुन, उपप्रमुख ओमप्रकाश मिश्र, पपौर मुखिया पुष्पा पांडेय सहित बीडीसी सदस्य दयाशंकर सिंह, प्रकाश पांडेय, प्रभावीती देवी,वार्ड सदस्यों सहित सभी लोग उपलब्ध थे।