लूट की घटना को अंजाम देकर भाग रहे अपराधी को ग्रामीणों ने मौत के घाट उतारा, दूसरा गंभीर

0
chori

परवेज़ अख्तर/सिवान:- जिले के मुफस्सिल थाना क्षेत्र के श्यामपुर बाजार में रविवार की दोपहर करीब तीन बजे बाइक सवार हथियार बंद छह अपराधियों ने एक सोना-चांदी की दुकान में लूट की घटना को अंजाम देने की कोशिश की। इस घटना में मॉब लिचिंग के तहत ग्रामीणों ने दो अपराधियों को पकड़ कर जमकर पीटा जिससे एक की मौत घटनास्थल पर हो गई। जबकि एक अन्य की स्थिति गंभीर थी। वहीं बीच बचाव कर रहे एक अन्य व्यक्ति को ग्रामीणों ने अपराधियों का साथी समझ कर उसकी भी पिटाई शुरू कर दी, लेकिन मौके पर पहुंची पुलिस ने ग्रामीणों के कब्जे से छुड़ाकर उसे हिरासत में लेकर पूछताछ शुरू कर दी थी। इस घटना में पकड़े जाने के डर से अपराधियों ने दुकानदार अजय कुमार उर्फ टुनटुन सोनार पर फायरिंग कर उन्हें घायल कर दिया। अपराधियों की गोली टुनटुन वर्मा के दाहिने हाथ की अंगुली को छूकर निकल गई। घटना के बाद मौके से चार अपराधी जान बचाकर किसी तरह सिवान की तरफ फरार हो गए। जबकि अपराधियों ने मौके से एक ग्रामीण की बाइक भी लूट ली।

मृत पड़ा अपराधी का शव

वहीं पुलिस ने घटनास्थल से दो बाइक, एक पिस्टल, एक मैगजीन, एक खोखा और चार हजार रुपया को बरामद किया है। इधर सूचना मिलते ही एसपी नवीन चंद्र झा, एएसपी कांतेश मिश्रा और मुफस्सिल थाना प्रभारी अभिजीत कुमार समेत आधा दर्जन से अधिक पुलिस पदाधिकारी मौके पर पहुंचे और घायलों को इलाज के लिए सदर अस्पताल पहुंचाया। जहां सभी का इलाज चल रहा था। घायल दुकानदार के पुत्र नन्हें सोनी के अनुसार दुकान में रखे करीब ढाई लाख रुपये के सोने की आभूषण गायब थे। गल्ला में एक भी एक सोने की आभूषण नहीं है। पुलिस ने मृत अपराधी के पास से लूट के कुछ आभूषण भी बरामद की है।मृत व घायल अपराधी की पहचान पुलिस करने में जुटी हुई है। मृत अपराधी के दाहिने हाथ में “जय महाकाल” लिखा हुआ है।तथा उसके पॉकेट से पुलिस को कोई ऐसे कागजात नही मिले है जिसके आधार पर पुलिस उसकी पहचान कर सके।मृत अपराधी की उम्र लगभग 25 वर्ष के आस-पास आंकी जा रही है। दूसरा घायल अपराधी ग्रामीणों की पिटाई से गम्भीर रूप से घायल है जो अभी बोलने में असमर्थ है।

घायल दुकानदार
घायल दुकानदार

सदर अस्पताल के चिकित्सकों ने उसे त्वरित उपचार के बाद उसकी हालत गम्भीर देखते हुए पटना रेफर कर दिया है। बता दें की पुलिस अपराधी को ग्रामीणों द्वारा मौत के घाट उतारने के मामले को गम्भीरता से लेते हुए घटना की बिडिओ फुटेज इकठ्ठा कर रही है ताकि कानून को अपने हाथ में लेने वाले ग्रामीणों पर हत्या से सम्बंधित प्राथमिकी दर्ज की जा सके।पुलिस इस घटना को लेकर दो अलग-अलग प्राथमिकी दर्ज करने की प्रक्रिया भी शुरू कर दी है। पहली प्राथमिकी गोली के शिकार दुकानदार के बयान या उनके परिजनों के बयान पर तो दूसरी प्राथमिकी पुलिसकर्मी के बयान पर दर्ज होगी ।उधर उक्त घटना को लेकर एसपी नवीन चन्द्र झा व एएसपी कांतेस मिश्र समेत कई पुलिस पदाधिकारी सदर अस्पताल परिसर में लम्बे समय तक जमे रहे।एसपी श्री झा ने इस घटना को अपने स्तर से बारीकी पूर्वक जाँच की।और सीएस शिव चन्द्र के कार्यालय में बैठ कर लम्बे समय तक सीएस से भी बात की।पुलिस अपराधियों की पहचान सीमावर्ती जिले के गोपालगंज जिले के बता रही है।हालांकि इसकी पुष्टि खबर लिखे जाने तक नही हो सकी है।पुलिस का मानना है की सीवान के कुछ सक्रिय अपराधियों द्वारा कुछ बाहरी अपराधियों को बुला कर ऐसी घटना को अंजाम दिलाई गई है। पुलिस सीवान के कुछ सक्रिय अपराधियों के यहाँ भी एक पुलिस टीम गठित कर छापेमारी कर रही है।उधर उक्त घटना के बाद से श्यामपुर बाजार में दहशत का माहौल कायम है।घटना के मद्देनजर पूरे इलाका में पुलिस गश्त तेज कर दी गई है।

घायल अपराधी
घायल अपराधी