आंदर की युवती का गुरुग्राम में हत्या के बाद घर पहुंचा शव

0
  • परिजनों का आरोप ससुराल वालों ने दिया घटना को अंजाम
  • हत्या के विरोध में रविवार को आंदर बाजार रहा पूरी तरह बंद

परवेज अख्तर/सिवान: जिले के आंदर थाना क्षेत्र के आंदर बाजार की एक युवती की हत्या गुरुग्राम के अनाज मंडी में 31 मार्च को कर दी गयी। मृतका अंजलि गुप्ता (22 वर्ष) थी। मृतका के पिता मनोज गुप्ता ने बताया कि उसकी 25 अप्रैल 2019 को प्रेम प्रसंग में शादी हुई थी। जिसके बाद वह अपने पति अभिषेक प्रसाद के साथ हरियाणा के गुरुग्राम स्थित अनाज मंडी में किराए के मकान में रहती थी। परिजनों ने बताया कि उसने 31 अप्रैल को फोन करके पति अभिषेक प्रसाद द्वारा मारपीट, गाली गलौज व प्रताड़ित करने की बात बताई थी। उसने अपने पिता मनोज गुप्ता से इसकी शिकायत भी की थी। उसने बताया कि उसके किराए के मकान पर कुछ लोग आए हैं जो उसकी हत्या की नीयत से उस पर दबाव बना रहे हैं। परिजनों ने बताया कि मृतका अपने चचेरे भैसूर से भी इसकी आशंका जाहिर की थी। परिजनों का कहना था कि हरियाणा के गुरुग्राम थाने की पुलिस ने उन्हें 1 अप्रैल को उसकी मौत की सूचना फोन पर दी। जिसकी खबर के बाद उसके परिवार में हाहाकार मच गया। वहीं घटना की सूचना मिलने के बाद अंजलि के पिता हरियाणा के गुरुग्राम पहुंचे। वहीं बाजार के लोंगो को शव आने की खबर शनिवार की रात में मिली तो सभी बाजारवासी एकजुट हो गए। हत्या की कड़ी निंदा करते हुए रविवार को आंदर बाजार के व्यवसायियों ने बाजार को बंद रखा। घटना की सूचना मिलने के बाद मौके पर पहुंचे थानाध्यक्ष मनोज कुमार ने व्यवसायियों से घंटों बात की। उन्होंने पुलिस की तरफ से हर तरह का सहयोग करने की बात कही। पीड़ित परिवार का कहना था कि उसकी बेटी की हत्या ससुराल पक्ष वालों ने पीट-पीटकर कर दी है। उन्होंने घटना में दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई करने की मांग की है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

शव पहुंचते ही प्रशासन हुआ अलर्ट

आंदर बजार में रविवार की दोपहर विवाहिता का शव पहुंचते ही लोगो की भीड़ उमड़ पड़ी। सूचना मिलने के बाद सीओ रामेश्वर राम, बीडीओ सुलेखा कुमारी, इंस्पेक्टर रणधीर कुमार, आंदर थानाध्यक्ष मनोज कुमार, आसांव थानाध्यक्ष अभिषेक कुमार ने मौके पर पहुंचकर व्यवसायियों से बातचीत की और पूरी घटना की जानकारी ली। लोगों का कहना था कि इस घटना में शामिल आरोपितों के खिलाफ सख्त कार्रवाई हो। वहीं पीड़ित परिजन युवती का शव आरोपित के दरवाजे पर जलाने को लेकर आमादा थे। मौके पर पहुंचे अधिकारियों ने पीड़ित परिवार से गंभीरता से बातचीत की। पीड़ित परिवार को जिला प्रशासन और स्थानीय प्रशासन से हर तरह की मदद का आश्वासन दिया। तब जाकर शव को परिजन अंतिम संस्कार करने के लिए तैयार हुए। घटना के बाद पूरे बाजार में सन्नाटा पसरा हुआ है। पुलिस ने मामले की गंभीरता को देखते हुए गश्त बढ़ा दी है। वहीं मुख्य बाजार में कई थानों की पुलिस कैंप कर रही है।

चचेरे भैसूर ने किया अंतिम संस्कार

बाजार की युवती की हत्या के बाद जहां पीड़ित परिजन शव को ससुराल पक्ष के दरवाजे पर जलाने की जिद्द पर अड़े थे। वहीं ससुराल के सभी सदस्य घर छोड़कर फरार थे। हालांकि प्रशासनिक मान मनौव्वल के बाद परिजन अपनी जिद्द छोड़े। वहीं ससुराल पक्ष के युवती के चचेरे भैसूर चंदन कुमार ने शव के अंतिम संस्कार की जिम्मेवारी लेते हुए दाह संस्कार किया।