बाइक की टक्कर से पूर्व मुखिया के भाई की मौत, मातम

0
takkar

परवेज अख्तर/सिवान : मैरवा-गुठनी मुख्य मार्ग पर टेकनिया कुट्टी के पास मंगलवार की देर शाम नशे में धुत बाइक चालक ने एक अधेड़ व्यक्ति को जोरदार टक्कर मार दी। जिससे वह गंभीर रूप से घायल हो गया। इलाज के लिए स्थानीय लोगों ने घायल को मैरवा रेफरल अस्पताल में भर्ती कराया जहां उसकी स्थिति नाजुक देखकर चिकित्सकों ने उसे गोरखपुर रेफर कर दिया। गोरखपुर ले जाने के क्रम में घायल ने दम तोड़ दिया। मृतक की शिनाख्त टेकनिया निवासी रामसिंगार मिश्र के दूसरे पुत्र मनोज मिश्रा (47) के रूप में हुई। वहीं घटना के बाद घटनास्थल पर बेसुध पड़े बाइक चालक को बुधवार की सुबह लड़खड़ाते अवस्था में ग्रामीणों ने देखा। पूछने पर बाइक चालक ने अपना नाम दरौली थाना क्षेत्र के डुमरहर निवासी दिनेश प्रसाद गुप्ता का पुत्र राजेश कुमार कानू बताया। स्थानीय ग्रामीणों ने इसकी सूचना स्थानीय पुलिस को दी।सूचना पर पहुंची पुलिस ने उस युवक को गिरफ्तार कर लिया और मृतक के शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल भेज दिया। मामले में बुधवार की सुबह मृतक मनोज मिश्र के भाई बिसवार पंचायत के पूर्व मुखिया संजय मिश्रा ने स्थानीय थाने में प्राथमिकी दर्ज कराते हुए दरौली थाना क्षेत्र के डुमरहर गांव निवासी राजेश कुमार पर प्राथमिकी दर्ज कराया है। थानाध्यक्ष दिलीप कुमार ने बताया कि आरोपित युवक को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस मामले की छानबीन कर रही है। परिजनों के अनुसार मनोज मिश्र की मौत के बाद उनकी पत्नी मिथलेश देवी, बच्चों समेत अन्य परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल है। मनोज मिश्र को चार पुत्री एवं एक छह वर्ष का पुत्र हैं। वे अपने परिवार का कमाऊ सदस्य थे। इस घटना से पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ था। मनोज मिश्र का दाह संस्कार दरौली सरयू घाट पर किया गया जहां उनके छोटे भाई पूर्व मुखिया संजय मिश्र ने मुखाग्नि दी। मनोज मिश्र तीन भाईयों में माझिल थे। उनके बड़े भाई शिवनाथ मिश्रा बाहर कहीं निजी कंपनी में काम करते हैं।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

दस दिन पहले ही आए थे अपने घर

मनोज मिश्रा दुबई में काम करते थे। वे 21 दिसंबर को दुबई से अपने घर टेकनिया आए थे। अभी बच्चों संग ठीक से समय भी नहीं बिताया था कि उनकी मौत सड़क दुर्घटना में हो गई। घटना के बाद से परिजनों का रो रो कर बुरा हाल है। ग्रामीण उनके भाई संजय मिश्र समेत अन्य परिजनों को सांत्वना दे रहे थे। इस घटना से पूरे पंचायत में शोक व्याप्त है।