भीखाबांध में ताजिया जुलूस निकालने का वीडियो वायरल होने के बाद जिला प्रशासन की उड़ी नींद

0
police

परवेज़ अख्तर/सिवान:- सरकार ने जहां कोरोना संक्रमन से बचाव के लिए सभी तरह के मेले या जुलूस निकालने पर प्रतिबंध लगा दी है। वहीं कोरोना काल में सभी सरकारी निर्देश को धता बताते हुए प्रखंड के भीखाबांध साईं टोला में शनिवार की देर रात ताजिया जुलूस ढोल-नगाड़े के बीच निकालने का वीडियो वायरल हो गया। इसकी भनक प्रशासन तक को नहीं लगी। ताजिया जुलूस का वीडियो वायरल होने के बाद प्रशासन को पता चला तो इस पर मिट्टी डालने का होने लगा। स्थानीय ग्रामीणों का कहना है कि जो वायरल हुआ है वह भीखाबांध के वार्ड संख्या 4 की साईं टोला की है। ग्रामीणों ने बताया कि शनिवार की रात करीब 10 बजे के बाद भीखाबांध साईं टोला से गांव के विभिन्न मार्गों से जुलूस भीखाबांध मठिया बाजार के समीप तक पहुंचा था।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

वायरल वीडियो ने जहां प्रशासन की व्यवस्था की पोल खोलकर रख दी है, वहीं चारों तरफ वीडियो पर चर्चा होने लगी है। वीडियो वायरल होने के बाद स्थानीय प्रशासन की नींद उड़ गई। अधिकारी इस वीडियो की जांच करने में जुटे हुए हैं। रविवार को बीडीओ दिनेश कुमार सिंह, थानाध्यक्ष अजीत कुमार सिंह, जेएसएस संजीत कुमार सिंह सहित कई अधिकारी पहुंचकर वायरल वीडियो से ताजिए की पहचान एवं लोगों की पहचान करने का प्रयास करते नजर आए। इस संबंध में बीडीओ ने बताया कि मामले की गहराई से जांच की जा रही है। विदित हो कि 21 अगस्त को दारौंदा थाने में हुई शांति समिति की बैठक में निर्णय लिया गया था कि कोई भी जुलूस निकालने पर आवश्यक कार्रवाई की जाएगी। मोहर्रम को ले ग्रामीण क्षेत्रों में गश्त करता रहा प्रशासन।