शराबी पति ने पीट-पीटकर पत्नी को मार डाला

0
सुनसान पड़ा झोपड़ी नुमा घर
सुनसान पड़ा झोपड़ी नुमा घर

हत्यारे पति को लोगों ने किया पुलिस के हवाले

सबको सता रही बच्चों के परवरिश की चिंता

परवेज़ अख्तर/सीवान:- जिले के महाराजगंज थाना क्षेत्र के बलऊ धोबी टोला गांव में एक शराबी पति ने नशे में धुत्त होकर अपनी पत्नी को पीट-पीट कर मार डाला। घटना के संबंध में बताया जाता है कि बलऊ के प्यारचंद महतो का पुत्र शैलेंद्र महतो घर पर शराब पीकर आया और आते ही पत्नी से उलझ गया। तू-तू, मैं-मैं से बात मारपीट तक पहुंच गई और उसने मारपीट कर अपनी पत्नी अनीता को मार डाला। अनीता की मौत होने पर ग्रामीणों और मुखिया सुनील सिंह ने घटना की जानकारी पुलिस को दी। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सीवान भेज दिया। लोगों ने हत्यारे शराबी पति को पकड़ कर पुलिस के हवाले कर दिया। घटना के बाद गांव में तरह-तरह की चर्चा हो रही है। कोई मारपीट किये जाने से मौत का कारण बता रहा है तो कोई मारपीट से आजिज आकर जहर खाकर आत्महत्या किये जाने की बात कर रहा है। पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट के बाद ही हत्या हुई है या आजिज आकर अनीता ने आत्महत्या कर ली। इसका खुलासा हो पायेगा।

कैसे होगा बच्चों का गुजारा

मृतका अनिता देवी के दो छोटे-छोटे बच्चे हैं। उनकी जिंदगी कैसे संवरेगी, लोगों के जेहन में यह सवाल कौंध रहा है। बाप शराबी है, जिसे पत्नी की हत्या के आरोप में ग्रामीणों ने पुलिस के सुपुर्द कर दिया। दूसरी ओर उसकी मां अपने पति के जुल्म के कारण इस दुनिया को छोड़ बसी। उसके 10 वर्षीय पुत्र राहुल और 7 वर्षीय पुत्र राजा का पालन पोषण कैसे होगा। लोगों को इसकी चिंता सता रही है। मृतका का पुत्र अपने पिता को अपनी मां का हत्यारा बता रहा है। उस दोनों की चीत्कार सुन लोगों की आंखों में आंसू भर जा रहे हैं। पुलिस ने मृतका के भाई के बयान पर आरोपित को घटना स्थल से गिरप्तार कर जेल भेज दिया है। मालूम हो कि शैलेन्द्र महतो काफी दिनों से अपने पत्नी के साथ मारपीट किया करता था, जिसके कारण अनिता ज्यादातर अपने भाई के घर ही रहा करती थी, जो हाल ही में अपने ससुराल आई हुई थी।

सुनसान पड़ा झोपड़ी नुमा घर
सुनसान पड़ा झोपड़ी नुमा घर
Loading...