हाथ में दारू की बोतल लिए थाने पहुंचा इंजीनियर, खोलने लगा SHO और चौकीदार के ‘खेला’ का पोल, फिर…

0

दरभंगा: बिहार में शराबबंदी कानून मजबूती से लागू हो सके इस बाबत सरकार ने आम जनता से अपील की है कि वे शराब माफियाओं के खिलाफ आवाज उठाएं, पुलिस को उनकी सूचना दें, ताकि कार्रवाई हो सके. लेकिन आम लोगों द्वारा सूचना देने पर कार्रवाई तो नहीं ही होती है, उन्हें पुलिस सजा जरूर देती है. ताजा मामला प्रदेश के दरभंगा जिला के बहेड़ा थाना क्षेत्र का है, जहां शराबबंदी कानून की विफलता का पोल खोलने पर सिपाहियों ने उसकी जमकर धुनाई कर दी. फिर लिखित शिकायत लेकर पूरे मामले में लीपापोती कर दी.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM
WhatsApp Image 2022-09-27 at 9.29.39 PM

पोल खुलती देख पुलिस ने की पिटाई

दरअसल, पेशे के इंजीनियर अमरजीत यादव नाम का युवक बीते दिनों शराब माफिया से शराब की बोतल लेकर बहेड़ा थाना पहुंच गया और शराबबंदी कानून की विफलता की पोल खोलने लगा. युवक फेसबुक लाइव आकर पुलिस की पोल खोलने लगा. युवक का आरोप था कि उनके गांव का चौकीदार खुद ही शराब पीता है और बहुत बड़ा नशेड़ी है. उसे वो शराब की सूचना देता है तो वो कार्रवाई करने के बजाय सूचना लीक कर देता है.

गांव से भी किया था फेसबुक लाइव

इधर, युवक को पोल खोलते देख थाने में मौजूद सिपाही आए और उसके साथ मारपीट शुरू कर दी. बता दें कि थाना पहुंचने से पहले अमरजीत जो बीपीएससी की तैयारी भी करते हैं ने अपने गांव की पुलिस चौकी से भी शराब की बोतल के साथ फेसबुक लाइव किया था, जहां कई ग्रामीण भी गांव में नशे की कारोबार की बात कह रहे थे. वहीं, गाव के चौकीदार से भी मौके पर सवाल पूछा था कि आखिर शराबबंदी के बावजूद शराब की बिक्री क्यों नहीं रुक रही है.

इस संबंध में जब दरभंगा के एसएसपी अवकाश कुमार से बात की गई तो उन्होंने बताया कि पिटाई का मामला हमें पता नहीं है. लेकिन पूरे मामले में एफआईआर दर्ज कर ली गई है. मामले में नामजद आरोपी को गिरफ्तार कर लिया गया है. उसके खिलाफ शराब बेचने का कोई मामला पहले से दर्ज नहीं है. ऐसे में पुलिस छानबीन आगे की छानबीन कर रही है. वहीं, इस संबंध में जब थानाध्यक्ष से बात करनी की कोशिश की गई तो उन्होंने कॉल कट कर दिया.