जीवन को आध्यात्मिक बनाना ही मानव का लक्ष्य : डीजीपी

0
Silhouette of man in meditation and surrounded by rays of light and energy

परवेज़ अख्तर/सिवान : जिले के गुठनी प्रखंड के बरपलिया गांव में मंगलवार की दोपहर बालाजी औद्योगिक शिक्षण संस्थान के स्थापना दिवस के कार्यक्रम का उद्घाटन डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय दीप प्रज्ज्वलित कर किया। बालाजी शिक्षण संस्थान के स्थापना दिवस पर आयोजित कार्यक्रम को संबोधित करते हुए डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने कहा कि मानव जीवन के मूलभूत सुविधाओं में जल का दूसरा स्थान है। पहला अतिआवश्यक वायु है। उसके साथ सामाजिक विकास के लिए शिक्षा और जीवन के हर क्षेत्रों में प्रबंधन की आवश्यकता है। डीजीपी ने नशा को समाज का कैंसर बताते हुए कहा कि इस महामारी को जड़ से खत्म करने की जरूरत है। आज देश को बाहरी दुश्मनों से नहीं बल्कि भीतरी लोगों से खतरा है। आज लोग जाति, धर्म, संप्रदाय समेत बेकार की छोटी बातों पर लड़ रहे हैं। उनका कहना था कि अगर समाज विकास करता है तो वहां स्वतः सकारात्मक ऊर्जा मिलेगी। गोष्ठी को प्रख्यात समाजसेवी एवं राष्ट्रीय सेवा योजना के संयोजक डॉ. एसएन सुब्बाराव ने कहा कि जल को विभिन्न स्रोतों से संरक्षित करने की जरूरत है, जिससे समाज, देश एवं हमारी संस्कृति बची रहे। सुब्बाराव ने कहा कि वन को बेतहाशा काटा गया तो इससे भी कई तरह की समस्या उत्पन्न हो जाएगी। पर्यावरणविद दिल्ली ज्ञानेंद्र रावत ने कहा कि आज नदियों के जल प्रदूषित होने से जलीय जीवों पर संकट आ गया है। जल की समस्या से कई राज्यों में हाहाकार मचा हुआ है। नदियों को अगर समय से पूर्व प्रदूषण मुक्त नहीं किया गया तो आने वाले समय में

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here