छपरा: सनकी पत्नी की करतूत, सो रहे पति को कुदाल से काट डाला, खून से सने शरीर को देख सभी रह गये सन्न

0

छपरा: जिले के सहाजितपुर थाना क्षेत्र के रामनगर में सोमवार की मध्य रात्रि में सनकी पत्नी ने पति की निर्मम हत्या कर दी। पत्नी ने घर की छत पर सोए पति पर कुदाल से ताबड़तोड़ हमला कर दिया जिससे घटना स्थल पर ही पति की मौत हो गई थी। मृत युवक 28 वर्षीय पप्पू यादव बताया जाता है, जो शत्रुघ्न यादव का इकलौता पुत्र था। पत्नी द्वारा कुदाल से किये हमले से युवक के सिर व गर्दन पर गंभीर जख्म हो गया था। युवक का चेहरा भी बुरी तरह कट गया था। गहरे जख्म और काफी अधिक रक्त स्राव के कारण युवक ने कुछ ही देर में दम तोड़ दिया था। घटना की जानकारी पर पहुंची सहाजितपुर पुलिस ने पत्नी गायत्री देवी को गिरफ्तार कर लिया है। वहीं घटना में इस्तेमाल किये गये कुदाल को भी घटना स्थल से बरामद कर लिया गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

पत्नी ने भागने का किया प्रयास

घटना को अंजाम देने के बाद पत्नी घर से भागने की कोशिश भी की थी। उसे ग्रामीणों के सहयोग से पकड़ा गया था। महिला किसी और घटना को अंजाम न दे दे, इस डर से ग्रामीणों ने उसे घण्टों बंधक बनाकर घटना स्थल पर ही रखा था। पुलिस के मौके पर पहुंचते ही सनकी महिला को पुलिस के हवाले कर दिया गया। मामले की प्राथमिकी मृतक के पिता शत्रुघ्न राय ने दर्ज कराते हुए अपनी बहू गायत्री देवी को नामजद किया है। एकलौते पुत्र की निर्मम हत्या से मां शारदा देवी बेहाल है। वहीं घटना के बाद पिता व घर में मौजूद मृतक की बहनें भी काफी दुखी हैं। पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए छपरा भेज दिया है।

मृतक के पिता ने बताया कि इसुआपुर थानाक्षेत्र के सिसवा निवासी दारोगा राय की बेटी गायत्री से वर्ष 2018 में ही पप्पू की शादी हुई थी। शादी के बाद तीन महीने तक सबकुछ सामान्य था। बाद में बहू घर के सदस्यों के साथ झगड़ने लगी। वह सास व ननद की बातों का अक्सर विरोध करती थी। पति के साथ भी उसके सम्बन्ध अच्छे नहीं रहे। इस कारण पति-पत्नी में हमेशा अनबन रहती थी। इसकी जानकारी गायत्री के मायके वालों को भी दी गई थी लेकिन मायके वाले शिकायतों पर कभी ध्यान नहीं दिए। एक पखवारे पूर्व भी बेटी की कारगुजारी की शिकायत की गई थी। वह एक सप्ताह से घर मे कलह उत्पन्न की थी जिसकी जानकारी पिता ने बेटे को दी। घर में पत्नी के विवाद की जानकारी पर बेटा सोमवार को ही घर लौटा था। वह पत्नी को समझाबुझा कर घर में शांति बहाल करना चाहता था।

कोलकाता में चाय बेचता था युवक

युवक कोलकाता में चाय बेचता था। वह अच्छी कमाई करता था। पांच बहनों के बीच वह एकलौता था। वह अक्सर कोलकाता में ही रहता था। घर में पारिवारिक कलह की बात सुनकर ही वह सोमवार को घर लौटा था। उसे क्या मालूम था कि यह सोमवार उसके जीवन का आखिरी दिन है। उसने पत्नी को समझाने की बात पिता और मां से भी कही थी। अभी वह पत्नी से कुछ बात भी नहीं कर सका था कि पत्नी ने उसकी निर्मम हत्या कर दी।

घटना के बाद कई तरह की चर्चाएं

घटना के बाद स्थानीय स्तर पर कई तरह की चर्चा हैं। एक तरफ जहां महिला ने पूछताछ के दौरान पुलिस को बताया है कि पति और सास उसे प्रताड़ित कर रहे थे। पति भी उसके साथ नहीं रह रहा था। वहीं चर्चा यह भी है कि मृतका का पति उसे छोड़ कर दूसरी शादी रचाने वाला था। शादी के लिए उसने एक बंगाली लड़की देख भी ली थी। दूसरी शादी रचाने की बात से ही महिला बिफर गई थी। हालांकि दूसरी शादी की बात को घरवाले गलत बता रहे हैं। पुलिस ने हत्या की आरोपित महिला को जेल भेज दिया है।

खून से सने शरीर को देख सभी रह गये सन्न

मृतक ने घर पर शाम को अपने एक सम्बन्धी के साथ खाना खाया था। उसने पत्नी से कुछ बातचीत भी की। फिर दोनों घर की खुले छत पर सोने चले गए। रात्रि के लगभग बारह बजे के करीब अचानक पप्पू यादव जोर-जोर से चिल्लाने लगा। घर वाले जब जगे तबतक पत्नी ने कुदाल से चेहरे और गर्दन पर कई बार प्रहार कर दिया था। महिला घर के सामने रखे कुदाल अपने साथ लेकर छत पर आई थी। जख्मी युवक कराह रहा था। खून के फव्वारे निकल रहे थे। घर वाले महिला की रौद्र रूप देख हक्का-बक्का रह गए। महिला ने कुदाल लेकर घरवालों पर भी हमले का प्रयास किया। बचाव में मृतक की चाची की अंगुली भी कट गयी है।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here