जिस दवा दुकान में बैठते थे दारोगा जी….वहां बिकती थी शराब…..SSP पहुंचे तो उड़ गए होश…..

0

पटना: भागलपुर जिले के सजौर थानाक्षेत्र के मेडिकल दुकानदारों से साठगांठ कर शराब बिक्री कराने मामले में संदिग्ध भूमिका निभाने वाले सहायक अवर निरीक्षक हरिओम प्रकाश सिंह को एसएसपी बाबूराम ने निलंबित कर दिया है। उनके विरुद्ध सजौर बाजार स्थित मेडिकल दुकानदरों जिनकी दुकानों से शराब बरामद हुई थी, के साथ सांठ-गांठ होने का आरोप लगाते हुए आवेदन दिया था। एसएसपी ने उक्त आवेदन की जांच इंस्पेक्टर और विधि व्यवस्था डीएसपी से कराई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

रिपोर्ट में संबंधित आरोपित दारोग़ा के इन दुकानों पर नियमित रूप से बैठने की शिकायत सही पाई गई, तथा इनका आचरण संदिग्ध पाया गया। रिपोर्ट के आधार पर दारोग़ा को तत्काल प्रभाव से एसएसपी ने निलंबित कर दिया है।

आरोपित दारोगा हरिओम प्रकाश सिंह रोज सजौर थानाक्षेत्र के सजौर बाजार क्षेत्र स्थित मेडिकल की दुकान में रोज बैठ अपनी मौजूदगी में शराब बिक्री करवाते थे। उनकी दिनचर्या सुबह सात से नौ और शाम को पांच बजे से आठ बजे तक मेडिकल की दुकान में बैठने की थी। इस दौरान दवा की दुकान में दवा नहीं दारू बिकती थी। दारू बेचने वाले और लिवाल उनकी मौजूदगी में शराब खरीदते और आराम से जाते थे। उनकी जेबेवगर्म हो जाती थी। एसएसपी ने अंचल इंस्पेक्टर और विधि व्यवस्था डीएसपी से जांच कराने के बाद भी आरोपित दारोग़ा की तकनीकी जांच में मौजूदगी की मुक्कमल जानकारी ली। सत्य पता होते ही उनके विरुद्ध पहली कार्रवाई निलंबन की हुई और विभागीय जांच की कार्रवाई भी आरंभ कराने की कवायद शुरू कर दी गई है।