सीवान के रहने वाले आईजी ने की ठेले वाले की मदद, वायरल

0
police

परवेज अख्तर/सिवान: इंदौर में लोगों की मदद करने, घरों तक छोड़ने औऱ इलाज करवाने के बाद परेशानी भरे लॉकडाउन में पुलिस का एक बार फिर उजला चेहरा सामने आया है। सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हुई जिसने बड़ा तूल पकड़ा। इसमे दिखाया गया कि दो बच्चे फल बेच रहे हैं। जब पुलिस औऱ प्रशासन ने इसकी जांच करवाई तो पता चला कि फल वाला पास में गया हुआ था, तभी वहां उसका बेटा औऱ पास में रहने वाले एक फोटोग्राफी ट्रेनर की बेटी बैठ गई।आखिर आईजी ने भी संज्ञान में लेकर आरआई को भेजा। आरआई ने स्थिति जानी। फल वाले को नया ठेला दिलवाया। उसके सारे फल खरीदे औऱ घर में बंद पड़ी टीवी बच्चे के लिए शुरू करवा दी। दो दिन पहले सोशल मीडिया पर एक फोटो वायरल हो रहा था, जो स्नेहलतागंज के पास का था। इसे कुछ लोगों ने मुख्यमंत्री को भी ट्वीट कर कहा कि ये बच्चे फल बेच रहे हैं इनकी मदद करनी चाहिए। आर आई जय तोमर ने दिए 10 हजार रुपए।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

सीएमओ से जानकारी लेने के लिए फोन आते ही प्रशासन ने जानकारी जुटाई। यहां निगम के अपर आयुक्त श्रृंगार श्रीवास्तव पहुंचे। पाया कि फोटो में जो लड़की है उसके पिता नीरज विश्वकर्मा है। 9 वर्षीय हिमाक्षी आईपीएस मेन कैंपस राऊ में चौथी कक्षा में पढ़ती है। हिमाक्षी अपने पड़ोसी आयुष के साथ खेलते हुए उनकी फल बेचने के टोकरी के सामने जाकर बैठ गई। इसी समय किसी ने बच्चों की फोटो लेकर वायरल कर दी। नीरज फोटोग्राफी ट्रेनर होने के साथ इनकम टैक्स पेयर भी हैं। वहीं पास में बैठा आयुष, स्नेहलता गंज निवासी राधेश्याम पाटिल का बेटा है। राधेश्याम की खेती है।वे 2 साल से सियागंज के सर्विस सेंटर पर मैकेनिक थे। लॉकडाउन उनकी पत्नी भारती घरों में घरेलू कार्य करती हैं। राधेश्याम तीन-चार दिन से फल बेच रहे हैं।

वे जब शौच के लिए गए तो बेटा और पड़ोस की बच्ची टोकरी के पास बैठ गई थी। इसलिए किसी ने तस्वीर ले।बच्चे ने कहा टीवी ख़राब तो तुरंत मेकेनिक बुलवाया और सुधरवा दी।उधर, इस फोटो की जानकारी मिलते ही आईजी हरिनारायणचारी मिश्र ने आरआई जयसिंह तोमर को भी तस्दीक में लगाया। आरआई ने सिपाहियों के मार्फत उसका पता लगाया। फिर फल व्यापारी राधेश्याम के पास पहुंचे। वह बोला की ठेला नही है इसलिए फुटपाथ पर लगाकर बैठ गया था। इस पर आरआई ने अपने खर्च से उसे हाथ ठेला दिलवाया। साथ ही उसके 1200 रुपए में पूरे फल खरीदकर सिपाहियों में बांट दिए। बच्चे ने बताया कि घऱ में डिस्क कनेक्शन कटा है इसलिए टाइम पास नहीं होता है। पुलिस ने उसे भी ठीक करवा दिया।आरआई जय तोमर ने 10 हजार की मदद भी की है।