महाराजगंज: इंटरमीडिएट परीक्षा के पहले दिन की कड़ाई ने छुड़ाए सबके पसीने

0

परवेज अख्तर/सिवान: सरकारी दावे के अनुरूप इंटरमीडिएट की परीक्षा सोमवार को महाराजगंज अनुुुमडंल मुख्यालय के 7 केन्द्रों पर इंटरमीडिएट परीक्षा के पहले दिन कड़ी प्रशासनिक चौकसी के बीच शुरू हुई. प्रथक्ष दिन की प्रथम पाली मे भौतिक की परीक्षा मे कई परिक्षार्थियों के पसीने छूटे तो कई परीक्षार्थी केंद्र से विजयी मुद्रा मे हंसते मुस्कुराते बाहर आए.तो परिक्षार्थी कड़ाई से परीक्षार्थी के अतिरिक्त वीक्षकों व केंद्राधीक्षकों के भी पसीने छूटते रहे. अभिभावकों में भी परीक्षा का खौफ दिखा. तलाशी अभियान के दौरान नजरें बचाने में कामयाब होकर चीट पूर्जा ले जाने में सफल परीक्षार्थी भी भीतर मनमानी नहीं कर पाए.इधर पहले दिन की परीक्षा की कड़ाई का असर आगे की परीक्षा पर पड़ने की उम्मीद है.शहर के सात परीक्षाा केंद्रों पर प्रवेश से पूर्व ही सघन जांच की जा रही थी. भीतर वीक्षकों की पैनी नजर परीक्षार्थियों को इधर-उधर ताक-झांक करने से रोकती रही.केंद्र के बाहर व भीतर पर्याप्त प्रबंधों के कारण नकलचियों को नहीं चली. चीट पुर्जा बाहर से भीतर जाने की स्थिति कड़ी जांच के कारण नहीं रही. इसके बावजूद कई जगह नजरें बचाकर बच्चे नकल की सामग्री ले जाने में सफल रहे किंतु वे भीतर मनमानी नहीं कर पाए.इधर परीक्षा शुरू होने के बाद एसडीओ डॉ.रामबाबू प्रसाद, एएसडीएम किसलय श्रीवास्तव,एसडीपीओ पोलस्त कुमार,सीडीपीओ सुहैल अहमद,थानाध्यक्ष अशोक कुमार सिंह ने बारी बारी से आरबीजीआर महाविद्यालय, एसकेजेआर उच्च विद्यालय, गोरख सिंह महाविद्यालय, डीएभी पब्लिक स्कूल, सिहौता बंगरा उच्च विधालय तथा अनुग्रह नारायण उमाशकर सिंह महिला महाविधालय परीक्षा केन्द्र का नीरीक्षण कर केन्द्राधिक्षकों, वीक्षकों, मजिस्ट्रेट को आवश्यक दिशा-निर्देश देते रहे. परीक्षा केंद्रों के बाहर निषेधाज्ञा के कारण माहौल शांति का ही रहा. पुलिस प्रशासन केंद्रों के बाहर मुस्तैद रहा जिससे बदले माहौल का एहसास होता रहा.इसके पूर्व 8 बजे से ही परीक्षा केंद्रों पर परिक्षार्थियों की भीड़ अभिभावकों के साथ उमड़नी आरंभ हो गई थी.गांव से आने वाले परिक्षार्थियों के वाहनो से पुरा शहर जाम से पट गया था.वही किसी की बोलेरो थी तो कोई स्कार्पियो से आया था.बहुत से अभिभावक अपनी बाइक पर बच्चों को लेकर आए थे.जब तक परीक्षार्थी मुख्य प्रवेश द्रार से केंद्र मे प्रवेश नही कर गए तबतक अभिभावकों की भीड़ जमी रही.लेकिन जैसे ही प्रशासन के लोगों ने मोर्चा संभाला सभी केंद्र से दूर हो गए.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

पहले दिन केंद्र पर जल्दी पहुंचने की रही होड़ :

महाराजगंज अनुमंडल मुख्यालय में इंटरमीडिएट परीक्षा के प्रथम दिन सुबह 9.45 बजे परीक्षा शरू होने वाली थी लेकिन सुबह सात बजे से ही परीक्षा केंद्रों पर परीक्षार्थी पहुंचने लगे थे. सभी सात केंद्रों पर परीक्षार्थी एवं उनके अभिभावक केंद्रों के मुख्य गेट पर सटे रोल नंबर के अनुसार अपने कमरा को देख रहे थे.

जाम से जूझते रहे परीक्षार्थी व अभिभावक :

महाराजगंज अनुमंडल मुख्यालय में इंटरमीडिएट परीक्षा के पहले दिन प्रथम पाली में सुबह प्रशासनिक व्यवस्था नहीं रहने के कारण परीक्षार्थी से लेकर अभिभावकों को काफी परेशानी हुई. राजेंद्र चौक से लेकर गोरख सिह महाविद्यालय तक जाम की समस्या से हर कोई परेशान दिखा. किसी चौक पर कोई पुलिस बल तैनात नहीं था. बड़े वाहनों के प्रवेश से काफी परेशानी हुई.

परीक्षा केंद्रों से दूर रही भीड़

परीक्षा केंद्रों में पांच सौ गज के दायरे में धारा 144 लागू होने के चलते किसी भी केंद्र के आसपास भीड़ नहीं दिखी. परीक्षार्थियों को केंद्र में प्रवेश कराने के बाद अभिभावक भी दूसरी जगह चले गए. परीक्षा समाप्त होने पर ही भीड़ लगी.

परीक्षा से पहले मां को किया याद

महाराजगंज परीक्षार्थियों ने पहले दिन शहर के जरती माई मंदिर, कंकारी माई मंदिर, दुर्गा मंदिर आदि मंदिरों में भीड़ देखी गई.

दिखा सीसी कैमरे का खौफ

इंटर परीक्षा के पहले दिन विभिन्न केन्द्रों पर सीसी कैमरे लगाए गए थे. केन्द्र के परीक्षार्थियों व बाहर परिसर की सीसी कैमरे से निगरानी हो रही थी. सीसी कैमरे के डर से बाहरी तो बाहरी, अंदर परीक्षातंत्र से जुड़े लोगों में भी खौफ देखा गया. यहीं नहीं परिसर में बाहर सुरक्षा को ले तैनात पुलिस बल भी लगातार मुस्तैद दिख रहे थे. उन्हें भी डर था कि कहीं उनकी कोई गलत सीसी कैमरे में कैद न हो जाय.

अभिभावक भी रहे परेशान

महाराजगंज अनुमडंल प्रशासन व शिक्षा विभाग के कड़े तेवर से परीक्षार्थियों के साथ अभिभावकों के भी होश उड़े रहे. वे इस बेचैनी में रहे कि उनके बच्चे ने कैसी परीक्षा दी. पाली समाप्त होने के बाद जैसे ही परीक्षार्थी बाहर निकले अभिभावक उन तक पहुंच गए और परीक्षा के बारे में जानकारी लेते रहे.

आदर्श परीक्षा केंद्रों पर दिखी मनमोहक सजावट

बिहार विद्यालय परीक्षा समिति की ओर से आयोजित इंटर परीक्षा को लेकर विभागीय निर्देशानुसार महाराजगंज अनुमडंल मुख्यालय में दो आदर्श परीक्षा केंद्र बनाए गए हैं. इन केंद्रों पर चाक चौबंद व्यवस्था देखी गई. इन परीक्षा केंद्रों को आकर्षक ढंग से सजाया गया है. मुख्यालय के उमाशंकर प्रसाद उच्च विधालय व सिहौता बंगरा उच्च विधालय को आदर्श जिसको लेकर दोनों आदर्श परीक्षा केंद्र को आकर्षक ढंग से सजाया गया है. प्रवेश द्वार की आकर्षक सजावट की गई है. रोलक्स, रंगीन कागज व बैलून से सजाया गया है. प्रवेश द्वार से अंदर जाने के लिए कालीन बिछाए गए हैं. यहां पेयजल आदि कि उत्तम व्यवस्था दिखी. परीक्षार्थी गदगद दिखे. पीने के लिए शुद्ध पानी, रौशनी आदि कि समुचित व्यवस्था की गई है. वहीं परीक्षार्थियों के लिए सुसज्जित जांच घर बनाए गए हैं. यहां महिला पुलिस कर्मी भी तैनात दिखीं. परीक्षा देने पहुंची रश्मि कुमारी, श्वेता कुमारी, किरण कुमारी ने बताया कि परीक्षा को लेकर दिल में भय व तनाव रहता है. ऊपर से परीक्षा की भीड़भाड़ से मन बोझिल रहता है. मगर आदर्श परीक्षा केंद्र पर की गई साज सज्जा व बेहतर व्यवस्था से शांति मिली. तनाव कम होने के साथ बेहतर माहौल में शांति से परीक्षा दी.