29 से होगी पोलियो अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत

0

परवेज अख्तर/सिवान:
जिले में पल्स पोलियो अभियान के दूसरे चरण की शुरुआत 29 नवंबर से होगी। यह अभियान तीन दिसंबर तक चलेगा। विशेष अभियान में अंतिम दिन छूटे बच्चो को पोलियो की दवा पिलाई जाएगी। इसको लेकर स्वास्थ्य विभाग द्वारा तैयारी की जा रही है। वहीं पोलियो अभियान में लगाए जाने वाले कर्मियों को प्रशिक्षित भी किया जा चुका है। सिविल सर्जन डा. यदुवंश कुमार शर्मा ने बताया कि जिले में 11 से 15 अक्टूबर तक पहले चरण का अभियान चलाया गया था। वहीं 29 नवंबर से तीन दिसंबर तक चलने वाले इस अभियान में पांच लाख 87 हजार 264 बच्चों को दवा पिलाई जाएगी। इस अभियान से छूटे 0 से पांच साल के बच्चों को तीन दिसंबर को विशेष अभियान चलाकर दवा पिलाई जाएगी। सीएस ने बताया कि ऐसे बच्चे जो त्योहार में बाहर से आने या छुट्टियों में बाहर घुमने जाने वाले परिवार से है, उनको विशेष रूप से ध्यान में रखते हुए जिले के मुख्य ट्रांजिट स्थलों जैसे रेलवे स्टेशन, बस स्टैंड और मुख्य चौक चौराहों से गुजरने वाले बच्चों पर विशेष ध्यान दिया जाएगा।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
a1
ads
WhatsApp Image 2020-11-09 at 10.34.22 PM
adssssssss
a2

सिविल सर्जन ने कहा कि पोलियो एक गंभीर बीमारी है। जिससे ग्रसित होने पर शिशु हमेशा के लिए लाचार हो जाता है। सेंटर फॉर डिजी•ा कंट्रोल एंड प्रिवेंशन की रिपोर्ट के अनुसार इस रोग के जीवाणु गंदगी में पनपते है और हाथ के जरिए पेट में पहुंचते है। शिशुओं में रोग प्रतिरोधक क्षमता कम होने और जमीन से उठाकर खाने की आदत से पोलियो संक्रमण की ज्यादा संभावना रहती है। अंत: यह हम सभी की नैतिक जिम्मेदारी है कि 5 वर्ष से कम आयु के नौनिहालों को पोलियो की दवा जरूर पिलाएं और स्वास्थ्य विभाग के अभियान को सार्थक कर पोलियो को जड़ से खत्म करें।

1502 कर्मी पिलाएंगे डोर-टू-डोर दवा

डीआइओ डा. प्रमोद कुमार पांडेय ने बताया कि टीकाकरण अभियान में 1502 कर्मी डोर-टू-डोर दवा पिलाएंगे। वहीं चौक चौराहों, रेलवे स्टेशन व बस स्टैंड पर दवा पिलाने के लिए 148 ट्रांजिट टीम व ट्रेन के अंदर घुम-घुमकर दवा पिलाने के लिए 35 मोबाइल टीम को जिम्मेदारी सौंपी गई है। अभियान में कोई लापरवाही ना हो इसकी मॉनीटरिग के लिए 416 सुपरवाइजर की तैनाती की गई है।

अपनी राय दें!

Please enter your comment!
Please enter your name here