सॉफ्टवेयर इंजीनियर को शराब पिलाना पड़ गया मंहगा…मद्य निषेध विभाग के निर्देश पर पुलिस ने होटल को किया सील

0

पटना: बिहार में शराबबंदी को 5 साल पूरे हो गए हैं ऐसे में समीक्षा बैठक के बाद कहीं ना कहीं फिर से शराब बंदी कानून को गति लाने की कवायद जारी है। अगर बात करें हम तो बिहार सहित राजधानी पटना ने शराबबंदी को प्रभावी रूप से लागू कराने को लेकर पुलिस महाकम लग गया है जहां पुलिस ने कार्रवाई करते हुए बीते शनिवार को कंकड़बाग थाना क्षेत्र के होटल फार्च्यून को सील करने की कवायद शुरू कर दी गई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
WhatsApp Image 2022-08-26 at 7.27.12 PM
WhatsApp Image 2022-08-26 at 8.35.34 PM
WhatsApp Image 2022-09-15 at 8.17.37 PM

बताते चलें मद्य निषेध विभाग की एक बड़ी कार्रवाई निकल कर सामने आ रही है। एक दिन कंकड़बाग के जिस फॉर्चून होटल से पकड़े गए थे सॉफ्टवेयर इंजीनियर की टीम शराब पार्टी करती हुई नजर आई थी, अब उस होटल को सील कर दिया गया है। शराबबंदी को लेकर पटना में हाल के दिनों में यह सबसे बड़ी कार्रवाई मानी जा रही है। बता दें कि शराब के साथ पकड़े इंजीनियरों को पहले ही जेल भेजने की कार्रवाई कर दी गई है। अब होटल को भी कहीं ना कहीं संदेह के घेरे में लेते हुए मद्य निषेध विभाग द्वारा दिए गए आदेश के बाद थाने की पुलिस ने रविवार से शुरू कर दी है।

गौरतलब हो कि मुख्यमंत्री नीतीश कुमार के समीक्षा बैठक के बाद के बाद शराब और शराब माफियाओं पर लगातार कार्रवाई करती नजर आ रही है। इस दौरान शनिवार की देर रात पटना के कंकड़बाग थाना क्षेत्र स्थित होटल फार्च्यून से लोगों की गिरफ्तारी की गई थी और उन्हें जेल भेजने की कार्रवाई की जा रही है । वहीं इसी तरह की छापेमारी दूसरे होटलों में भी की गई थी।