आयुक्त समेत चिकित्सकों की टीम, बैंक, शिक्षा विभाग के अधिकारी रहे शामिल

0
doctor metting

परवेज अख्तर/सिवान : जिला निबंधन एवं परामर्श केंद्र परिसर में बिहार सरकार के राज्य आयुक्त निःशक्तता डॉ. शिवाजी कुमार की अध्यक्षता में दिव्यांगों के लिए मोबाइल कोर्ट का आयोजन किया गया। इस दौरान दो हजार एक सौ 30 दिव्यांगों ने अपना पंजीकरण कराया। इसमें 13 सौ 52 दिव्यांगों को ऑन द स्पॉट प्रमाणपत्र बनाया गया। जबकि तीन सौ आठ उपकरण का वितरण दिव्यांगों के बीच किया गया। चार सौ 32 पेंशन के लिए आवेदन किए गए, एक सौ नौ आवास के आवेदन लिया गया,23 ड्राइविंग लाइसेंस के लिए आवेदन पड़े एवं एक सौ 88 लोन के लिए आवेदन प्राप्त हुए। इन सभी आवेदनों का शीघ्र निष्पादन कर संबंधित पदाधिकारियों को आयुक्त ने निर्देश दिया। ताकि दिव्यांगों को किसी प्रकार की परेशानी नहीं हो। मौके पर उप समहर्ता अनिशा,डीपीआरओ राधाकांत, डीईओ चंद्रशेखर राय, सिविल सर्जन रामदेव दास सहित सभी विभागों के पदाधिकारी कोर्ट में उपस्थित होकर दिव्यांगों की समस्याओं का निष्पादन किया। चिकित्सक व बैंक की टीम मुस्तैद दिखी।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
aliahmad
dr faisal

पंजीकरण के लिए एक दर्जन से अधिक लगे काउंटर

मोबाइल कोर्ट के दौरान दिव्यांगों के पंजीकरण के लिए एक दर्जन से अधिक काउंटर लगाए गए थे। ताकि समय से पंजीकरण का कार्य हो सके। सभी काउंटर पर कर्मी तैनात किए गए थे, जो आवेदन भरने की प्रक्रिया के बारे में बता रहे थे।

आयुक्त खुद पूरे दिन कोर्ट में बैठे रहे

आयुक्त शिवजी कुमार खुद कोर्ट में पदाधिकारियों के साथ पूरे दिन बैठे रहे। साथ ही उनकी समस्याओं को सुना और संबंधित पदाधिकारी को निदान करने की बात कही। अपने से कई दिव्यांगों की जांच भी उन्होंने मौके पर की।

कोर्ट के आयोजन को लेकर दिव्यांगों में दिखा उत्साह

पहली बार दिव्यांगों के लिए इतने बड़े आयोजन को लेकर उत्साह दिख रहा था। अभिभावक भी खुश थे। कई अभिभावकों ने कहा कि ऐसा आयोजन हर साल होना चाहिए।