दरभंगा यूनिवर्सिटी में इफ्तार आयोजन पर बीजेपी और RJD में घमासान, नीतीश के मंत्री बोले- बिहार को इफ्तार नहीं रफ्तार की जरूरत

0

पटना: बिहार के दरभंगा में यूनिवर्सिटी कैंपस में इफ्तार पार्टी का आयोजन हुआ था. लेकिन यूनिवर्सिटी के भीतर इफ्तार पर बीजेपी और आरजेडी के बीच राजनीतिक घमासान हो गया. यह घमासान सरकार के ही एक मंत्री के सवाल उठाने पर शुरू हुआ है.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

दरअसल सवाल उठाने वाले नीतीश सरकार के बीजेपी कोटे से मंत्री जीवेश मिश्रा हैं. जिन्होंने यूनिवर्सिटी कैंपस में इफ्तार करने पर दो टूक कहा कि अगर शैक्षणिक संस्थानों में नमाज और हनुमान चालीसा होंगे तो फिर मंदिर और मस्जिद किसलिए हैं.

आरजेडी ने दिया ये जवाब

जानकारी के अनुसार दावत-ए-इफ्तार आरजेडी और जेडीयू नेताओं की मौजूदगी में हुआ. मंत्री जीवेश मिश्रा बीजेपी के विधायक हैं. उन्होंने यूनिवर्सिटी कैंपस में इफ्तार को वोटबैंक की राजनीति करार दिया है. मंत्री के ऐतराज पर इफ्तार में शिरकत करने पहुंचे आरजेडी नेता भोला यादव ने भी जवाब देते हुए बीजेपी को निशाने पर लिया.

भोला यादव ने कहा, ”रमजान पाक महीना है और इसमें सामूहिक रूप से नमाज पढ़ने और दावत-ए-इफ्तार में शामिल होने पर अमन-चैन और प्यार-मोहब्बत बढ़ता है.” उन्होंने कहा कि कुछ सांप्रदायिक शक्तियां देश को गलत दिशा में ले जा रही हैं. उनसे लोगों के बच कर रहना चाहिए.

इफ्तार को लेकर देश के अलग-अलग विश्वविद्यालयों में वबाल

इफ्तार आयोजन को लेकर कई जगहों पर राजनीति देखने को मिली. दरअसल बनारस हिंदू विश्वविद्यालय में भी इफ्तार को लेकर बीते दिन वबाल हो गया था. जहां छात्रों ने विश्वविद्यालय प्रशासन की नई परंपरा बताकर इसका विरोध किया था. बता दें कि महिला महाविद्यालय में हुए इस इफ्तार में BHU के वीसी और शिक्षक भी शामिल हुए थे, जिस पर छात्रों ने नाराजगी जताते हुए वीसी का पुतला फूंका था.