बिहार में है शराबबंदी, फिर भी जहरीली शराब से हुई मौत, मुजफ्फरपुर में 8 ने तोड़ा दम, थानेदार सस्पेंड…

0

पटना: बिहार में शराबबंदी है फिर लोगों को शराब मिल रही है वो जहरीली। इसमें मौत भी हो रही है। इन दिनों सीवान और मुजफ्फरपुर जिले में जहरीला शराब पीने मौत की ख़बरें आयी। कहा जा रहा है कि जहरीली शराब से मुजफ्फरपुर में दो और लोगों की मौत हो गई है. यहां मौत का आंकड़ा बढ़कर आठ हो गया है. घटना के बाद जिला प्रशासन से लेकर वर्दीधारियों के बीच हड़कंप मच गया है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

मुजफ्फरपुर जिले में कथित जहरीली शराब से मरने वालों की संख्या अब आठ हो गई है. प्रशांत हास्पिटल में विशंभरपुर के रहने वाले मुन्ना ने भी दम तोड़ दिया है. पिछले दिन दिन में यहां कुल आठ लोग दम तोड़ चुके हैं. मृतकों के घर में कोहराम मच गया है. पूरे गांव में मातमी सन्नाटा पसरा है. गौरतलब हो कि सबसे पहले गुरुवार की देर रात दो लोगों की मौत हुई. घटना रूपौली और सिउड़ी ऐमा गांव में हुई. पुलिस ने चार मृतकों के शवों को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम कराया, जबकि दो शवों का पुलिस के पहुंचने से पूर्व परिजन दाह-संस्कार कर चुके थे।

घटना की सूचना मिलते ही आनन-फानन में जिले के सबसे बड़े अधिकारी डीएम प्रणव कुमार, एसएसपी जयंतकांत, डीडीसी आशुतोष द्विवेदी घटनास्थल पर पहुंचे. इनके साथ आरएफएसएल की टीम, सीआईडी, विशेष शाखा, उत्पाद विभाग की टीम भी उस गांव में पहुंचकर छानबीन की. बताया जा रहा है कि इस मामले में दो अधिकारियों पर कार्रवाई की गई है. सरैया थानाध्यक्ष और प्रभारी थानेदार को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया गया है. यह खबर शनिवार दोपहर को निकल कर सामने आई है।

इस मामले में जांच के दौरान अधिकारियों की टीम ने ग्रामीणों से जानकारी ली है. मृतकों के घर की तलाशी ली गई है. इस दौरान गांव से पुलिस ने शराब की खाली बोतलें, रैपर, पंचिंग मशीन आदि जब्त की है. रूपौली और आसपास के इलाके से वार्ड सदस्य समेत 10 लोगों को पुलिस ने गिरफ्तार किया है. सरैया थाने पर सभी से पूछताछ की जा रही है. दो मकान को भी पुलिस ने सील किया है।