विधानसभा अध्यक्ष से बदतमीजी करने वाले DSP व दो थानेदारों पर कार्रवाई नहीं होने से सदन में हंगामा…

0

पटना: बिहार विधानसभा में आज फिर से लखीसराय के डीएसपी व दो थानेदारों पर कार्रवाई नहीं होने का मसला उठा। सभा की कार्यवाही जैसे ही शुरू हुई राजद विधायक ललित यादव ने यह मामला उठाय़ा। राजद विधायक ने सदन में कहा कि आसन से नियमन होने और सरकार की तरफ से कार्रवाई का आश्वासन के बाद भी डीएसपी व थानेदारों पर कार्रवाई नहीं हुई। राजद विधायक के साथ भाजपा विधायक भी खड़े हो गए और खूब हंगामा किया। हंगामा होते रहा लेकिन सरकार की तरफ से कोई मंत्री जवाब देने की स्थिति में नहीं थे। इसके बाद सदन की कार्यवाही स्थगित कर दी गई।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
ADDD

भाजपा के विधायक संजय सरावगी व हरिभूषण ठाकुर बचौल ने कहा कि यह घोर आपत्तिजनक है। आसन से नियमन के बाद भी डीएसपी व थानेदार अपने पद पर बने हुए हैं। ऐसे में यह विधायिका का अपमान है। जब तक कार्रवाई नहीं होती सदन को स्थगित किया जाए। राजद-भाजपा के विधायक दोनों साथ हो गए। इस पर स्पीकर विजय सिन्हा ने कहा कि संसदीय कार्य मंत्री इस पर जवाब देंगे। प्रभारी गृह मंत्री से इस मुद्दे पर बोलने को कहा गया। इस पर प्रभारी गृह मंत्री ने जवाब देने से कन्नी कटा ली। इस पर डिप्टी सीएम रेणु देवी ने सदन में कहा कि डीजीपी की रिपोर्ट आ गई होगी। संसदीय कार्य मंत्री इस पर जवाब देंगे। वे अभी सदन में नहीं है। सरकार की तरफ से जवाब नहीं देने पर राजद विधायकों ने खूब हंगामा किया।

बता दें, सरस्वती पूजा के समय लखीसराय के डीएसपी व थानेदारों ने विस अध्यक्ष विजय सिन्हा से बदतमीजी की थी। यह मामला विस में उठा था तब सरकार ने कहा था कि सभी पर कार्रवाई होगी। सात दिन बीतने के बाद भी आरोपी पुलिस अधिकारियों पर कोई कार्रवाई नहीं हुई।