हत्याकांड के तीन आरोपियों ने न्यायालय में किया आत्मसमर्पण

0

परवेज अख्तर/सिवान : जिले में दो अलग-अलग हत्या कांड के तीन आरोपितों ने गुरुवार को पुलिस दबाव में आकर कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया है जिसे न्यायाधीश ने जेल भेज दिया। बताया जाता है कि तीनों हत्याकांड के आरोपी हैं। पुलिस दबिश के कारण सुरेश यादव हत्याकांड के आरोपित गुरुवार को न्यायालय आत्समर्पण कर दिया। एसपी नवीनचंद्र झा ने बताया कि घटना की प्राथमिकी के बाद हत्या कांड हुसैनगंज थाना कांड सं. 48/18 के आरोपित आंदर के पंचबेरवा निवासी तैयब मियां को पुलिस सरगर्मी से तलाश कर रही थी और वह पुलिस गिरफ्त से भाग रहा था। लेकिन पुलिस के दबाव के बाद उसने गुरुवार को कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया जहां से न्यायाधीश ने उसे जेल भेज दिया। पुलिस अब उसे रिमांड पर लेने के लिए कोर्ट में आवेदन देगी। वहीं दूसरी ओर गोरेयाकोठी थाना कांड सं. 87/18 के नामजद आरोपित जलपुरवा निवासी साबिर अंसारी एवं मेराज अंसारी ने भी पुलिस दबिश के कारण कोर्ट में समर्पण कर दिया। इस संदर्भ में गोरेयाकोठी थानाध्यक्ष उदय कुमार सिंह ने बताया कि विगत 12 मई, 18 गोविंदापुर निवासी नसीर आलम की प्रेम प्रसंग में हत्या कर उसके शव को बगीचे में फेंक दिया गया था। इस कांड में पूर्व में दो आरोपित जलपुरवा निवासी कैलाश यादव एवं सनोज यादव को पुलिस गिरफ्तार कर जेल भेज चुकी है। इस मामले में जलपुरवा निवासी साबिर अंसारी एवं मेराज अंसारी फरार चल रहे थे। इसके विरुद्ध पुलिस ने इश्तेहार तामिला के बाद कुर्की की तैयारी में थी तभी पुलिस दबाव में आकर इन दोनों ने कोर्ट में आत्मसमर्पण कर दिया जिसे न्यायाधीश ने इन्हें भी जेल भेज दी। ज्ञात हो कि इस मामले में मृतक की भाभी के बयान पर गोरेयाकोठी थाने में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी।