सड़क दुर्घटना में तीन की मौत, दो घायल

0

परवेज अख्‍तर/ सिवान:- जिले में शनिवार सुबह की शुरुआत हादसों के साथ हुई। जहां अलग अलग सड़क दुर्घटना में एक महिला सहित तीन लोगों मौत हो गई जबकि दो लोग गंभीर रूप से घायल हो गए। दोनों घायलों का इलाज सदर अस्पताल में चल रहा है। घटना के बाद तीनों परिवार में कोहराम मच गया। वहीं शव को पुलिस ने कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए सदर अस्पताल लाया जहां से अंतिम प्रक्रिया पूरी होने के बाद मृतकों के शव को परिजनों को सौंप दिया गया। पहली घटना नगर थाना क्षेत्र के उमाशंकर सिंह पेट्रोल पंप समीप शनिवार की सुबह हुई। यहां एक आलू लदे ट्रक ने साइकिल सवार 60 वर्ष वृद्ध को पीछे से टक्कर मार कर रौंद दिया। टक्कर इतनी जोरदार थी कि मृतक का सिर धड़ से अलग हो गया। इसके बाद ट्रक चालक ने मृतक के सिर को बुरी तरह से कुचल दिया। जबतक लोग कु छ कर पाते ट्रक चालक गाड़ी लेकर फरार हो गया। आनन फानन में मृतक अतरसुआ निवासी जैनुल्लाह बेग के शव को सदर अस्पताल भेजा और पुलिस को इसकी सूचना दी। जहां पुलिस की मौजूदगी में शव को पोस्टमार्टम करा परिजनों को मृतक का शव सौंप दिया गया। इधर शव आने के बाद परिवार में कोहराम मच गया। परिजनों ने बताया कि वे चिकित्सक के पास पर्ची लगाने के लिए साइकिल पर सवार होकर घर से निकले थे। मृतक के बहनोई इजहार अली ने बताया कि मौत की सूचना हमलोगों को 8 बजे के आस-पास मिली तो हमलोग अस्पताल पहुंचे। मृतक मजदूरी करते थे उनकी दो बेटियां और तीन बेटा हैं अब धर पर कमाने वाला कोई नहीं है।

घर से चली बाबा के दर्शन को बीच में ही यमराज ने लिए प्राण

शनिवार को सड़क दुर्घटना में जहां शहर में एक वृद्ध की दर्दनाक मौत हो गई वहीं दो महिलाओं की मौत वैशाख मास के शिवरात्रि पर बाबा के जलाभिषेक करने के दौरान हो गई। इनमें एक महिला की मौत सहुली गांव के पास हुई। यहां शिवरात्रि के मौके पर बाबा के दर्शन को दपंती नंदजी अपनी पत्नी सरोज देवी के साथ छोटका मांझा से मेंहदार बाबा के जलाभिषेक को जा रहे थे तभी सहुली गांव में सड़क पर बने ब्रेकर पर बाइक अनियंत्रित हो गई और नंद जी अपनी पत्नी के साथ ब्रेकर पर गिर गए। इस क्रम में नंद जी पत्नी सरोज देवी के सिर में गहरी चोट लग गई। जिससे वह बेहोश गई। आनन फानन में उन्हें सदर अस्पताल लाया गया लेकिन बीच रास्ते में ही सरोज की मौत हो गई। वहीं मृतका के पति नंद जी का इलाज सदर अस्पताल में चला रहा है। सरोज अपने पीछे पांच बच्चों को छोड़ गई है। बता दें कि नंद जी पूर्व सरपंच थे और जीरादेई हाई स्कूल में 30 वर्षों तक अध्यक्ष के पद पर रहे थे। वहीं तीसरी घटना भी मेंहदार जाने के क्रम में छितौली-चैनपुर मुख्य मार्ग पर शनिवार की सुबह करीब 5 बजे तड़के हुई। यहां भी एक महिला की मौत हो गई। घटना के संबंध लोगो ने बताया कि एमएचनगर थाना क्षेत्र के कन्हौली गांव निवासी विनय सिंह उर्फ गुड्डू सिंह अपनी पत्नी सुमित्रा देवी (32) के साथ बाइक से मेहंदार महेंद्रानाथ मंदिर में जलाभिषेक करने जा रहे थे। तभी चैनपुर के समीप बाइक के आगे अचानक एक जंगली जानवर आ गया और उसे बचाने के चक्कर में ब्रेकर पार करते समय बाइक पर पीछे बैठी महिला असंतुलित हो गिर गई, जिससे उनके सिर में गंभीर चोटें आई। उनके नाक- कान और मुंह से खून का स्राव होने लगा और वो अचेत हो गई। स्थानीय लोगो के सहयोग से उन्हें चैनपुर अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सको ने स्थिति की गंभीरता को देखते हुए सदर अस्पताल रेफर कर दिया। परिजन गंभीर रूप से घायल महिला को सदर अस्पताल लाए जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। मृतक की दो पुत्री क्रमशः अंकु कुमारी (14), जिया कुमारी (10) एवं एक दिव्यांग पुत्र राजकुमार (6) है। परिजनों का रो-रो कर बुरा हाल है। घटना की खबर सुन पूरे कन्हौली गांव में मातमी सन्नाटा पसरा हुआ है। वहीं चौथी घटना रघुनाथपुर नरहन गांव निवासी पंकज सिंह के साथ हुई। वे नरहन गांव से रघुनाथपुर बाइक पर सवार होकर जा रहे थे। तभी राजपुर में एक अनियंत्रित टैंपो चालक ने उन्हें टक्कर मार दी। जिससे वे बाइक से गिर कर गंभीर रूप से घायल हो गए इलाज के लिए इन्हें लोगों ने सदर अस्पताल लाया जहां उनका इलाज चल रहा है।​

रोते बिलखते परिजन
Loading...