रबी महोत्सव में किसानों की गई आय दोगुनी करने की तरकीब

0
rabi abhiyan

परवेज अख्तर/सिवान : जीरादेई एवं हसनपुरा प्रखंड मुख्यालय के पास गुरुवार को रबी अभियान-2018 कर्मशाला सह प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया गया। किसानों की दलहन, तेलहन, अनाज, मशीन एवं बीज पर मिलने वाले अनुदान एवं व्यवसायिक खेती की जानकारी दी गई। जीरादेई में कार्यक्रम की शुरुआत उप परियोजना निदेशक, सिवान कालिकांत चौधरी, जीरादेई कृषि पदाधिकारी कामेश्वर राम, प्रखंड प्रमुख प्रतिनिधि विनोद तिवारी, जीरादेई कृषि समन्यवक प्रकाश चंद्र मिश्रा, कुछ प्रगतिशील किसानों ने संयुक्त रूप से दीप प्रज्ज्वलित कर किया। प्रशिक्षक के रूप में जिला कृषि विज्ञान केंद्र भगवानपुर हाट से आए वैज्ञानिक डॉ. आर के मंडल, डॉ. वरुण के साथ मिट्टी रसायन पदाधिकारी अशोक श्रीवास्तव, मत्स्य पर्यवेक्षक मो. सुफियान,मृत्युंजय सिंह, राजेश पांडेय, उमेश सिंह ने भाग लिया किसानों को सरकारी योजनाओं के साथ फसल को अधिक उपज बनाने का गुर सिखाया। किसानों को चना, मसूर, गेहूं प्रत्यक्षण, मुख्यमंत्री तीव्र बीज विस्तार योजना के बारे में विस्तृत रूप से जानकारी दी गई। जिले से आये कृषि पदाधिकारियों और वैज्ञानिकों ने खरीफ के बदले व्यावसायिक खेती पर जोर देने की बात किसानों से की। इसके तहत ओल,माखन, केला, पपीता की खेती करने का सलाह दी गई। बीएओ कामेश्वर ने मशीन एवं बीज पर मिलने वाली अनुदान की जानकारी दी। इस मौके पर उप प्रखंड प्रमुख वैजंती देवी, ठेपहां मुखिया कलिंदर सिंह, अकोल्ही मुखिया,तितरा के सरपंच चुन्नू सिंह, किसान अजय सिंह के अलावा काफी संख्या में किसान उपस्थित थे। वहीं दूसरी ओर हसनपुरा प्रखंड मुख्यालय में खरीफ महोत्सव का उद्घाटन प्रखंड प्रमुख रजिया खातून, बीएओ अवध किशोर राम, पौधा संरक्षण सुरेश प्रसाद एवं बीसीओ ने दीप प्रज्जवलित कर किया। इस मौके पर कृषि सामान्य सोनू कुमार, संतोष सिंह, वेद प्रकाश, राज किशोर ठाकुर, रामजी सिंह तथा किसान सलाहकारों में जवाहर राम, सुरेश यादव, राजेश शर्मा, संतोष चौधरी, उमेश प्रसाद, उदय कुमार पांडेय, नवलकिशोर सिंह, रामेश्वर यादव, जितेंद्र भारती सहित सैकड़ों किसान उपस्थित थे।