आरोपी को पकड़ने के लिये पुलिस ने FIR करने वाले से ही गाड़ी में भरवा लिया 5 हजार का डीजल, SSP ने दिया जांच का आदेश

0
police

पटना: गया पुलिस के कारनामे एक से बढ़कर एक हैं। यहां की पुलिस आरोपी को पकड़वाने के लिए वादी से पुलिस की गाड़ी में हजारों रुपए की तेल भरवाती है और फिर उसे पकड़ती है। फतेहपुर थानाध्यक्ष और IO द्वारा किया गया यह सनसनीखेज कारनामा पेट्रोल पंप के CCTV कैमरे में कैद हो गया है, जो खाकी के असली चेहरे को बड़े ही सलीके से उजागर कर रहा है। पीड़ित ने संबंधित मामले की लिखित शिकायत DGP और SSP से की है। सूत्रों का कहना है- ‘संबंधित मामले की जांच ASP मनीष कुमार को दी गई है।

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
camp

फतेहपुर थाना क्षेत्र के पकड़ी गांव की एक महिला की हत्या 25 अक्तूबर 2020 को हुई थी। उस हत्या के आरोपी मिथिलेश सिंह बनाए गए हैं। मिथिलेश की गिरफ्तारी बीते एक वर्ष से नहीं हो सकी थी। इधर, मृतका का लड़का विपुल सिंह पुलिस से लगातार संपर्क कर आरोपी को अरेस्ट करने की मांग कर रहा था, लेकिन पुलिस मामले को टाल मटोल लगातार कर रही थी। इधर, मृतक के लड़का का कहना है- ‘बीती 21 सितंबर को थानाध्यक्ष फतपुर मनोज राम व केश के IO खालिद हुसैन ने फोन किया और संबंधित केस के आरोप को गिरफ्तार करने की बात कही।’

फतेहपुर पुलिस के साथ रात के अंधेरे में बोधगया थाना क्षेत्र के ग्राम मौनिया में जाकर छापेमारी कराई और आरोपी मिथिलेश सिंह पकड़ा भी गया, लेकिन शाबाशी देने के बजाए दोनों अधिकारियों ने पुलिस की गाड़ी में पांच हजार रुपए का डीजल भरवाने की बात कही। इसके बाद पीड़ित ने कहा- ‘हमारी मां मारी गई, पिता किसान हैं। किसी तरह पढ़ाई-लिखाई कर रहा हूं। पांच हजार रुपए का तेल कहां से भरवा दूं। इस पर दोनों पुलिस अधिकारी मेरे साथ गाली-गलौज करने लगे और पिटाई करने पर भी ऊतारु हो गए।’

डर से पुलिस की गाड़ी में पे फोन के माध्यम से फतेहपुर रोड स्थित बृजमोहन फ्यूल पर जाकर 4,778 रुपए का तेल भरवा दिया। यह पूरी घटना CCTV में कैद भी हो गई है। यही नहीं कोर्ट में आरोपी को पेश करने के लिए 5,000 रुपए भी लिए। साथ ही में धमकी भी दी कि यदि नहीं दोगे तो केस खराब कर देंगे।