मरीजों को बेहतर सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए स्वास्थ्य विभाग प्रयासरत: सिविल सर्जन

0
  • अस्पताल में पर्याप्त बेड व बैठने की जगह उपलब्ध
  • मरीजों की एंट्री से पहले की जा रही थर्मल स्क्रीनिंग
  • एक मरीज के साथ एक ही अटेंडेंट को आने की अपील

छपरा : जिले के सदर अस्पताल में मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराने के लिए विभाग लगातार प्रयासरत है । अस्पताल में संसाधनों की कमी नहीं है। सदर अस्पताल में मरीजों के लिए पर्याप्त बेड की सुविधा है । साथ ही ओपीडी में आने वाले मरीजों और उनके परिजनों की बैठने के लिए भी प्रर्याप्त व्यवस्था की गयी है। उक्त बातें सिविल सर्जन डॉ. माधवेश्वर झा ने कही। उन्होने आम जनों से अपील करते हुए कहा जरूरी होने पर हीं अस्पताल आयें और मरीज के साथ एक हीं परिजन अस्पताल ताकि भीड़ न हो। उन्होने कहा अस्पताल आते समय सभी लोग मास्क का उपयोग करें तथा सामाजिक दूरी का पालन करें। कोरोना संक्रमण से बचाव का सामाजिक दूरी कारगर उपाय है। साथ हीं मास्क के प्रयोग से संक्रमण फैलने का भी खतरा कम होता है। डॉ. झा ने बताया सदर अस्पताल में संसाधनों की कमी नहीं है। उपलब्ध संसाधनों से मरीजों को बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं दी जा रही है। सभी जरूरी दवाओं की उपलब्धता सुनश्चित की गयी है। साथ ही चिकित्सकों को भी समय से अस्पताल आने के लिए जरूरी दिशा-निर्देश दिया गया है। कोरोना संक्रमण की रोकथाम के मद्देनजर अस्पताल में एंट्री से पहले लोगों की थर्मल स्क्रीनिंग भी की जा रही है. मरीजों से अपील करते हुए उन्होंने कहा अस्पताल में कई तरह के लोगों के आने से कोरोना संक्रमण प्रसार का ख़तरा हो सकता है. इसलिए अस्पताल में आने वाले सभी लोग सामाजिक दूरी का पालन हर हाल में करें.

विज्ञापन
pervej akhtar siwan online
ahmadali
dr faisal

कोरोना की प्राथमिक जाँच के बाद ही मरीजों को ओपीडी में मिलेगी एंट्री

कोरोना संक्रमण के मद्देनजर अस्पतालों में सतर्कता बरती जा रही है। ओपीडी में फ्लू कार्नर स्थापित किया गया है।यहां पर मरीजों और आगुन्तकों की कोरोना की प्राथमिक जांच हो रही है। उसके बाद हीं उन्हें उपचार के लिए ओपीडी में जाने की अनुमति दी जा रही है। इस पूरी प्रक्रिया में सामाजिक दूरी का विशेष रूप से ख्याल रखा जा रहा है। ओपीडी के चिकित्सक के कमरे में भी एक बार में एक ही मरीज को जाने की अनुमति दी गयी है ताकि संक्रमण के खतरे को टाला जा सके।

एक मरीज के साथ एक हीं परिजन आयें

सिविल सर्जन डॉ. माधेवश्वर झा ने कहा ऐसा देखा जा रहा है कि एक मरीज के साथ दो से तीन लोग आ रहें है। ऐसी स्थिति में सामाजिक दूरी को पालन कराने में कठिनाई हो रही है। इसलिए एक मरीज के साथ एक व्यक्ति को आने की अपील की जा रही है। ताकि अस्पताल में भीड़-भाड़ न हों।

कोरोना वायरस से बचने के लिए क्या करें

  • व्यक्तिगत स्वच्छता और शारीरिक दूरी बनाए रखें।
  • बार-बार हाथ धोने की आदत डालें। साबुन और पानी से हाथ धोएं या अल्कोहल आधारित हैंड रब का इस्तेमाल करें।
  • साफ दिखने वाले हाथों को निरंतर धोएं।
  • छींकते औरर खांसते समय अप नी नाक और मुंह को रूमाल या टिशू से ढंकें।
  • अपनी कोहने के अंदरूनी हिस्से में छींके, अपने हाथों की हथेलियों में न खासें।